न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

ओझा-गुणी के अंधविश्वास में सास की हत्या करने के आरोपी दामाद को पुलिस ने किया गिरफ्तार

94

Ranchi : सिल्ली थाना क्षेत्र के रंगामाटी गांव में 23 दिसंबर को तंत्र-मंत्र और ओझा-गुणी के अंधविश्वास में अपनी सास सुकरू देवी की हत्या करने के आरोपी दामाद फलिंद्र लोहरा को सिल्ली थाना की पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है. आरोपी फलिंद्र लोहरा सुकरू देवी की हत्या के बाद फरार हो गया था. इसके बाद रांची एसपी के आदेशानुसार सिल्ली थाना प्रभारी के नेतृत्व में टीम का गठन कर आरोपी को गिरफ्तार कर लिया गया.

क्या है मामला

आरोप है कि 23 दिसंबर की सुबह बारूडीह तमाड़ के रहनेवाले फलिंद्र लोहरा ने अंधविश्वास में आकर अपनी सास सुकरू देवी की टांगी से मारकर हत्या कर दी थी. सास की हत्या करने के बाद आरोपी दामाद फरार हो गया था. इस हत्याकांड में उस पर  सिल्ली थाना में झारखंड डायन प्रथा प्रतिषेध अधिनियम के तहत प्राथमिकी दर्ज की गयी, जिसके बाद पुलिस ने उसको छापामारी कर गिरफ्तार कर लिया.

सास से ओझा-गुणी, तंत्र-मंत्र सीखने आया था आरोपी

बताया जा रहा है कि 20 दिसंबर को आरोपी दामाद फलिंद्र लोहरा अपनी सास सुकरू देवी से ओझा-गुणी सीखने सिल्ली के रंगामाटी गांव आया हुआ था. आरोपी की सास ने उससे कहा कि तंत्र-मंत्र सीखने के लिए अब बड़े गुरु के पास जाना है, जिसके बाद अपनी सास के कहने पर वह बाजार से एक बत्तख लाया और दोनों ने मिलकर बत्तख की बलि घर पर ही दी और बत्तख का खून आरोपी दामाद पी गया. फिर आरोपी की सास ने कहा कि किसी बड़े जानवर की बलि देनी होगी, तब घर के पीछे बंधे छोटे भैंसे को दावली से बलि देने का प्रयास किया, परंतु वह पूरा नहीं काट पाया. हालांकि, भैंसे का खून बहने लगा, जिसे फलिंद्र लोहरा पीकर घर आया और अपनी सास से कहने लगा कि अब मैं तुम्हारा गुरु हूं. इसी बात को लेकर दामाद और सास के बीच विवाद होने लगा. तब आरोपी दामाद ने पास में रखी दावली से घर के बाहर आंगन में अपनी सास पर पीछे से वार किया और तब तक वार करता रहा, जब तक सास की मौत नहीं हो गयी. उसके बाद वह मौके से फरार हो गया था.

इसे भी पढ़ें- राजन तिर्की के हत्यारे की गिरफ्तारी के लिए लोगों ने किया रातू रोड जाम, सीनियर एसएसपी को बुलाने की…

hotlips top

इसे भी पढ़ें- NW Breaking: IFS अफसरों की शाही पार्टी! पांच घंटे का कार्यक्रम और खाने का खर्च 34.31 लाख

30 may to 1 june

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

o1
You might also like