न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

साइबर अपराध के आरोपी छह नाबालिग बच्चों को पुलिस ने किया गिरफ्तार

शहर के उषा पेट्रोल पंप को लगा चुके है 50 हजार का चूना

160

Bokaro :  करीब एक साल से साईबर अपराध को अंजाम देने वाले छह नाबालिग बच्चों को साईबर थाना की टीम ने पकड़ लिया. सभी ने शहर के उषा पेट्रोल पंप को करीब 50 हजार चुना लगाया है. लगातार शिकायत के बाद यातायात डीएसपी सह साईबर थाना प्रभारी आनंद ज्योति मिंज के नेतृत्व में गठित टीम ने इस गिरोह का उदभेदन किया. उक्त बातें जिले के एसपी कार्तिक एस ने कहीं. उन्होंने बताया कि उनके पास से आठ एनड्रोयड मोबाईल, एक कीपैड मोबाईल और केनरा बैंक एवं एसबीआई बैंक का डेबिट कार्ड भी बरामद किया गया.

इसे भी पढ़ें- ऐसी है झारखंड की विकास गाथा : केंद्र ने 14वें वित्त आयोग के पहले किस्त के 6.4 अरब दिये, राज्य ने…

पेटीएम का फर्जी अकाउंट बनाकर देते से अपराध को अंजाम

hosp1

एक दिन पूर्व बोकारो ऑटो मोबाईल चास के प्रबंधक विनित अग्रवाल ने एक मामला दर्ज कराया था, उसके बाद से ही पुलिस सक्रिय होकर इनके पीछे लगी, तभी चास के सोलागीडीह तालाब के पास साइबर की योजना बनाते सभी को रंगे हाथ पकड़ा गया. पूछ-ताछ के क्रम में बताया कि इनके द्वारा किसी भी पेट्रोल पंप, दुकान या प्रतिष्ठान के नाम का फर्जी मर्चेट पेटीएम अकाउंट अपने नंबर से बनाकर खरीदारी करते थे, लेकिन भुगतान उक्त प्रतिष्ठान के मूल अकाउंट में न जाकर इनके ओर से बनाए गए फर्जी अकाउंट में भुगतान स्थानांतरित हो जाता था, जबकि भुगतान संबंधी मैसेज उक्त प्रतिष्ठान के पेटीएम नंबर में चला जाता था. जिससे प्रतिष्ठान के लोगों को विश्वास हो जाता था कि उनके अकाउंट में भुगतान हो गया है, लेकिन वास्तव में ऐसा नहीं होता था. ये लोग करीब 12 माह से इस तरह का साइबर अपराध कर रहे थे. इन लोगों अब तक बोकारो आटो मोबाइल चास, कोजी स्वीट्स सेक्टर-4, उषा पेट्रोल पंप, विजय वर्मा दुकान, कपड़ा दुकान सेक्टर-4 बोकारो आदि प्रतिष्ठानों को चुना लगा चुके है.

इसे भी पढ़ें- खेती का आधुनिक तरीका अपनायें किसान, कम लागत और अधिक उपज पर दें बल : रघुवर दास

ये समान हुई है बरामद

छह नाबालिग के पास से रीयल मी कंपनी का एनड्रोयड फोन एक, एमआई कंपनी का एनड्रोयड फोन चार, वीभो कंपनी का एनड्रोयड फोन दो, सेमसंग जे सेवन इनड्रोयड फोन एक, जेड आइडीएक्स का की पैड फोन एक, दो पास बुक जो केनरा और एसबीआई बैंक का है. इसके साथ एक एचडीएफसी का क्रेडिट कार्ड, और एक-एक केनरा बैंक और एसबीआई बैंक का डेबिट कार्ड बरामद किया गया है. छापेमारी में यातायात डीएसपी आनंद ज्योति मिंज, चास थाना प्रभारी प्रमोद पांडेय, साइबर शाखा के आरक्षी काजल मंडल, कामेश्वर महतो, राजीव कुमार पासवान, विश्वकर्मा कुमार सिंह आदि शामिल थे.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

You might also like
%d bloggers like this: