Crime NewsJamshedpurJharkhand

JAMSHEDPUR : सेवानिवृत प्रोफेसर की पत्नी के साथ 40 लाख की धोखाधड़ी करने वाले पड़ोसी को पुलिस ने किया गिरफ्तार

BAHRAGORA : बहरागोड़ा पुलिस ने पाटपुर गांव निवासी स्वपनी गिरी के साथ लाखों की धोखाधड़ी करने के आरोप में पड़ोसी बसंत जाना को गिरफ्तार किया है. इस मामले में पीड़िता के बयान पर पुलिस ने रंजीता जाना, और गोपाल खुटिया पर भी धोखाधड़ी करने का मामला दर्ज किया है. स्वपना गिरी बहरागोड़ा महाविद्यालय के सेवानिवृत प्रोफेसर बेनी माधव गिरी की पत्नी है. बेनी माधव गिरी की कोरोना काल में मौत हो गई है. पति की मौत के बाद वह अपनी बेटी के साथ घाटशिला स्थित अपने मायके में रहने लगी. बसंत जाना और उसकी पत्नी रंजीता जाना ने पेंशन का काम और पति का मृत्यु प्रमाण पत्र निकालने का काम किया. मृत्यु प्रमाण पत्र निकालने के नाम पर 60 हजार रूपए लिया. (नीचे भी पढ़ें)

बसंत जाना पत्नी रंजीता जाना और साला गोपाल खुटिया स्वपना के घर पहुंचे और कहा कि सेंट्रल बैंक के रूपये, एलआईसी और बैंक ऑफ इंडिया में रख देंगे. उनके नाम पर एक करोड़ रुपया का एलआईसी करवा दिया. फिर बेटी के नाम पर पांच लाख की एलआईसी करवाने का झांसा देते हुए कागजात में छेड़छाड़ करते हुए नोमिनी में रंजीता जाना का नाम जोड़ दिया. घर मरम्मत करने और चूना पेंट करने के नाम पर चार लाख रूपये लिए. फिर चेक लेकर खाते से तीन लाख रुपयों की निकासी कर ली. इसके बाद 6 सितंबर 2021 को ब्लैंक चेक पर हस्ताक्षर करा कर पचास हजार की जगह 35 लाख रुपया रंजीता जाना के अकाउंट में जमा कर दिया. पुलिस ने बसंत जाना को जेल भेज दिया है जबकि अन्य आरोपियों की तलाश में छापेमारी कर रही है.

ये भी पढ़ेंTata Motors के बाद Tata Cummins ने भी क्लोजर की घोषणा की, 29 जून से लेकर एक जुलाई तक कंपनी रहेगी बंद

 

Catalyst IAS
ram janam hospital

Related Articles

Back to top button