न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

दिल्ली की आबोहवा में फिर घुल रहा जहर, खराब श्रेणी में पहुंची हवा की गुणवत्ता

दिल्ली सरकार के पर्यावरण मंत्री ने केंद्र को लिखा खत

124

New Delhi: हवा की दिशा बदलने से दिल्ली में शुक्रवार को वायु की गुणवत्ता ‘खराब श्रेणी’ में आ गई. अधिकारियों ने बताया कि अब इसने प्रदूषित भारत-गांगेय मैदानी इलाकों से चलना शुरू कर दिया है. एयर इंडेक्स क्वालिटी (एक्यूआई) शुक्रवार शाम चार बजे 259 दर्ज की गई, जो खराब श्रेणी में आती है. इससे पहले मंगलवार को यह खराब से मध्यम श्रेणी के बीच दर्ज की गई थी.

इसे भी पढ़ेंःसीएम चाचा रोज ही लुटती है हमारी इज्जत, कभी मालिक तो कभी साहेब रात में नोचते हैं, बचाइए ना हमें

शून्य से 50 के बीच एक्यूआई को अच्छा समझा जाता है. 51-100 को संतोषजनक, 101-200 को मध्यम, 201-300 को खराब, 301-400 बेहद खराब और 401-500 को गंभीर समझा जाता है.

hosp3

दिल्ली सरकार ने केंद्र को लिखा पत्र

दिल्ली की फिजाओं में घुलते जहर को लेकर प्रदेश सरकार के पर्यावरण मंत्री इमरान हुसैन ने केंद्रीय पर्यावरण मंत्री हर्षवर्धन को पत्र लिखकर दिल्ली के आसपास के राज्यों के मुख्यमंत्रियों की बैठक बुलाने की मांग की है. पर्यावरण मंत्री का कहना है कि सर्दियों आने से पहले ही दिल्ली की आबोहवा साफ-सुथरा रखने के लिए तैयारी करनी होगी. और इसके लिए सभी राज्यों की एकजैसी कार्ययोजना जरूरी है.

पर्यावरण मंत्री इमरान हुसैन ने पिछले महीने लिखे गए पत्र का हवाला देते हुए कहा कि अक्टूबर व नवंबर में दिल्ली की हवा खराब हो जाती है. हवा में धूल के महीन कणों की मात्रा बहुत ज्यादा बढ़ जाती है, जिससे कई बार सांस लेना भी मुश्किल हो जाता है. इसी बीच पड़ोसी राज्यों में पुआल भी जलाया जाता है, जिससे दिल्ली में प्रदूषण और बढ़ जाता है.

इसे भी पढ़ें- बीजेपी सांसद रविंद्र राय ने जेवीएम सुप्रीमो बाबूलाल मरांडी पर ठोका 10 करोड़ का मानहानि का दावा

उल्लेखनीय है कि पिछले कुछ सालों से अक्टूबर के बाद दिल्ली की आबोहवा की गुणवत्ता में भारी गिरावट देखने को मिल रही है. ऐसे में एक बार फिर से हवा की गुणवत्ता में गिरावट दिल्ली वासियों के लिए अच्छा संकेत नहीं है.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

You might also like
%d bloggers like this: