National

दिल्ली की आबोहवा में फिर घुल रहा जहर, खराब श्रेणी में पहुंची हवा की गुणवत्ता

New Delhi: हवा की दिशा बदलने से दिल्ली में शुक्रवार को वायु की गुणवत्ता ‘खराब श्रेणी’ में आ गई. अधिकारियों ने बताया कि अब इसने प्रदूषित भारत-गांगेय मैदानी इलाकों से चलना शुरू कर दिया है. एयर इंडेक्स क्वालिटी (एक्यूआई) शुक्रवार शाम चार बजे 259 दर्ज की गई, जो खराब श्रेणी में आती है. इससे पहले मंगलवार को यह खराब से मध्यम श्रेणी के बीच दर्ज की गई थी.

Advt

इसे भी पढ़ेंःसीएम चाचा रोज ही लुटती है हमारी इज्जत, कभी मालिक तो कभी साहेब रात में नोचते हैं, बचाइए ना हमें

शून्य से 50 के बीच एक्यूआई को अच्छा समझा जाता है. 51-100 को संतोषजनक, 101-200 को मध्यम, 201-300 को खराब, 301-400 बेहद खराब और 401-500 को गंभीर समझा जाता है.

दिल्ली सरकार ने केंद्र को लिखा पत्र

दिल्ली की फिजाओं में घुलते जहर को लेकर प्रदेश सरकार के पर्यावरण मंत्री इमरान हुसैन ने केंद्रीय पर्यावरण मंत्री हर्षवर्धन को पत्र लिखकर दिल्ली के आसपास के राज्यों के मुख्यमंत्रियों की बैठक बुलाने की मांग की है. पर्यावरण मंत्री का कहना है कि सर्दियों आने से पहले ही दिल्ली की आबोहवा साफ-सुथरा रखने के लिए तैयारी करनी होगी. और इसके लिए सभी राज्यों की एकजैसी कार्ययोजना जरूरी है.

पर्यावरण मंत्री इमरान हुसैन ने पिछले महीने लिखे गए पत्र का हवाला देते हुए कहा कि अक्टूबर व नवंबर में दिल्ली की हवा खराब हो जाती है. हवा में धूल के महीन कणों की मात्रा बहुत ज्यादा बढ़ जाती है, जिससे कई बार सांस लेना भी मुश्किल हो जाता है. इसी बीच पड़ोसी राज्यों में पुआल भी जलाया जाता है, जिससे दिल्ली में प्रदूषण और बढ़ जाता है.

इसे भी पढ़ें- बीजेपी सांसद रविंद्र राय ने जेवीएम सुप्रीमो बाबूलाल मरांडी पर ठोका 10 करोड़ का मानहानि का दावा

उल्लेखनीय है कि पिछले कुछ सालों से अक्टूबर के बाद दिल्ली की आबोहवा की गुणवत्ता में भारी गिरावट देखने को मिल रही है. ऐसे में एक बार फिर से हवा की गुणवत्ता में गिरावट दिल्ली वासियों के लिए अच्छा संकेत नहीं है.

Advt

Related Articles

Back to top button