HEALTHJharkhandRanchiTOP SLIDER

रांची में खुलेगा एम्स, केंद्र ने कहा- तैयारी शुरू करें

रांची में जमीन चिन्हित करने की प्रक्रिया शुरू, हेल्थ सेक्रेटरी को दी गयी जिम्मेदारी

Ranchi: झारखंड को दूसरा एम्स मिलने के पूरे आसार दिख रहे हैं. राजधानी में राज्य का दूसरा एम्स बन सकता है. प्रधानमंत्री कार्यालय ने इसमें रुचि दिखाई है. प्रधानमंत्री कार्यालय ने पत्रांक 5379379/2021 के तहत राज्य सरकार को पत्र लिखा है और एम्स खोलने की दिशा में पहल करने को कहा है.

इसके बाद झारखंड के इंडस्ट्री डायरेक्टर ने हेल्थ सेक्रेटरी को पत्र लिखा है. इसमें रांची में AIIMS की स्थापना के लिए भूमि चिन्हित करने को कहा है.

advt

इंडस्ट्री डायरेक्टर जितेंद्र कुमार सिंह ने अपने पत्र में कहा है कि प्रधानमंत्री कार्यालय ने AIIMS की स्थापना पर विचार किया है. इसलिए एम्स की स्थापना हेतु भूमि चिन्हित कर सूचित करें. जमीन चिन्हित होने के बाद आगे की कार्रवाई की जाएगी.

इसे भी पढ़ें:नीरज चोपड़ा समेत 11 खिलाड़ियों को मिलेगा खेल रत्न पुरस्कार, 35 खिलाड़ियों को दिया जायेगा अर्जुन पुरस्कार

सांसद संजय सेठ ने प्रधानमंत्री से किया था आग्रह

मालूम हो 28 जुलाई 2021 को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी से मुलाकात के दौरान रांची के सांसद संजय सेठ ने आग्रह किया था कि रांची में एम्स की आवश्यकता महसूस हो रही है. ऐसी परिस्थिति में यहां एम्स खोलने पर विचार किया जाए. संजय सेठ ने प्रधानमंत्री को बताया था कि रांची झारखंड की राजधानी है. इस कारण बड़ी संख्या में पूरे राज्य के लोग उपचार के लिए यहां आते हैं.

इसके अतिरिक्त झारखंड के आसपास के राज्यों से भी नागरिक अपने उपचार के लिए रांची आते हैं. नागरिकों को रांची में बेहतर उपचार, कम खर्च पर उपलब्ध हो सके, इस उद्देश्य से एम्स की स्थापना आवश्यक है.

इसे भी पढ़ें:कोरोना संकट में प्राइवेट अस्पतालों ने कमाये 7000 करोड़, कांग्रेस ने मांगा आय-व्यय का ब्योरा

सांसद के इस आग्रह पर संज्ञान लेकर प्रधानमंत्री कार्यालय ने पत्रांक 5379379/2021 के तहत राज्य सरकार को पत्र लिखा है और एम्स खोलने की दिशा में पहल करने को कहा है.

उस पत्र के आलोक में झारखंड सरकार के उद्योग निदेशक जितेंद्र कुमार ने अपर मुख्य सचिव, स्वास्थ्य, शिक्षा एवं परिवार कल्याण विभाग को पत्र लिखकर रांची में एम्स की स्थापना हेतु भूमि चिन्हित करने को कहा है.

पत्र के आलोक में जितेंद्र कुमार ने अपर मुख्य सचिव को कहा है कि सांसद के आग्रह पर प्रधानमंत्री कार्यालय ने एम्स की स्थापना पर विचार किया है. इसलिए एम्स की स्थापना हेतु भूमि चिन्हित कर सूचित करें.

इस बाबत सांसद संजय सेठ ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के प्रति आभार जताया है. उन्होंने राज्य सरकार से आग्रह किया है कि इस दिशा में त्वरित कार्यवाही करते हुए अविलंब जमीन चिन्हित कर केंद्र का सरकार को सूचित किया जाए ताकि यहां जल्द से जल्द एम्स की स्थापना हो सके.

इसे भी पढ़ें:“आपकी सरकार आयेगी आपके द्वार” कार्यक्रम चलायेगी सरकार

दे‌वघर में इसी साल शुरू हुआ है AIIMS

अगर रांची में AIMS खुलता है तो झारखंड में यह दूसरा होगा. इससे पहले देवघर में AIMS संचालित है. इसी साल इसका उद्घाटन हुआ है. इसे 1100 करोड़ रुपए से तैयार किया गया है. यहां अभी हर रोज 200 मरीजों का उपचार हो रहा है. देवघर का AIIMS देश भर में 13वां है.

इसे भी पढ़ें:क्रूज ड्रग केस: आर्यन खान को आज भी नहीं मिली जमानत

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: