न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें
bharat_electronics

पीएम के झारखंड दौरे का पारा शिक्षक करेंगे विरोध, प्रशासन ने लगाया काले रंग पर बैन

423

Ranchi/Palamu: 5 जनवरी को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी चियांकि हवाई अड्डा से उतरी कोयल परियोजना (मंडल डैम) और कोयल सोन परियोजना का शिलान्यास करेंगे. इधर पारा शिक्षकों ने प्रधानमंत्री के कार्यक्रम का विरोध करने का फैसला किया है. इस घोषणा के बाद झारखंड सरकार को डर है कि जिस तरह पारा शिक्षकों ने मुख्यमंत्री रघुवर दास को स्थापना दिवस पर काला झंडा दिखाया था, उसी तरह प्रधानमंत्री के कार्यक्रम के दौरान न हो जाये. इसी आशंका को देखते हुए प्रधानमंत्री के पलामू दौरे में काले रंग पर प्रतिबंध लगा दिया गया है. इसके लिए पलामू जिला प्रशासन ने आदेश भी जारी कर दिया है.

eidbanner

पड़ोसी जिलों को भी भेजा गया पत्र

प्रतिबंध लगाये जाने से संबंधित पलामू के पुलिस अधीक्षक इन्द्रजीत माहथा द्वारा पत्र जारी किया गया है और गढ़वा, लातेहार, चतरा डीसी को भेजा गया है. इसे हर हाल में सख्ती से लागू करने का आग्रह किया गया है.

पीएम के दौरा को लेकर जिला प्रशासन ने तैयारी शुरू की है. जारी पत्र में कहा गया है कि कार्यक्रम स्थल पर किसी भी तरह का काला वस्तु नहीं ले जाया जा सकता. कार्यक्रम स्थल पर जहां काले रंग का सामान पूरी तरह वर्जित रहेगा, वहीं बिना आईडी कार्ड के किसी भी शख्स की इंट्री नहीं होगी. कार्यक्रम में शामिल होने के लिए पहचान पत्र साथ में लाना होगा.

पलामू के पुलिस अधीक्षक इन्द्रजीत माहथा द्वारा पत्र जारी
पलामू के पुलिस अधीक्षक इन्द्रजीत माहथा द्वारा जारी पत्र

सरकारी कर्मी हो या आम लोग काले रंग का मोजा पहन कर जाने पर भी प्रतिबंध लगा दिया गया है. पीएम के कार्यक्रम में भाग लेने के लिए पहचान पत्र जारी किया गया है. लोगों को काला रंग का कपड़ा, बैग, जुता, मोजा, पर्स, टोपी आदि लाने पर भी रोक लगा दी गई है.

पलामू में पीएम का शिड्यूल

प्रधानमंत्री का एक घंटा यहां रुकने का कार्यक्रम है. कार्यक्रम पूर्वाहन 10.30 से 11.30 बजे तक चलेगा. इस दौरान प्रधानमंत्री चियांकी एयरपोर्ट के मैदान में एक जनसभा को संबोधित करेंगे. सभा में 80 हजार लोगों के आने की उम्मीद है.

पारा शिक्षकों ने कहा पीएम का करेंगे विरोध

पारा शिक्षकों के नेता बजरंग प्रसाद ने कहा है कि 4 जनवरी तक सीएम रघुवर दास हमारी मांगों को लेकर सकारात्मक निर्णय लेते हैं तो अच्छा है, हम काम अपना आंदोलन वापस लेकर काम पर लौट जायेंगे. अगर ऐसा नहीं होता है तो 5 जनवरी को प्रधानमंत्री के झारखंड दौरे का पारा शिक्षकों के द्वारा विरोध किया जाएगा.

रविवार को एकीकृत पारा शिक्षक संघर्ष मोर्चा के बैनर तले पारा शिक्षकों ने एक महत्वपूर्ण बैठक की. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के झारखंड दौरे का विरोध करने का निर्णय इसी बैठक में लिया गया.

27 जनवरी को पारा शिक्षकों के एक प्रतिनिधिमंडल ने सरकार के आमंत्रण पर शिक्षा मंत्री नीरा यादव से मुलाकात की थी. पारा शिक्षक अपनी बहाली के स्थायीकरण और वेतन बढ़ोतरी की मांग पर अड़े रहे, वहीं शिक्षा मंत्री ने इस मामले पर सीएम से मंत्रणा करने के लिए पारा शिक्षकों से वक्त मांगा. तब पारा शिक्षकों ने अपना आंदोलन जारी रखने का फैसला सुनाया.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

dav_add
You might also like
addionm
%d bloggers like this: