NEWSWING
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

पीएम की रैली में पंडाल गिरा, 22 घायल, मोदी घायलों को देखने अस्पताल पहुंचे

पश्चिम बंगाल के मिदनापुर में सोमवार को पीएम नरेंद्र मोदी की रैली में भाषण के दौरान एक दुर्घटना हो गयी. खबरों के अनुसार पर पीएम मोदी के भाषण के क्रम में पंडाल का एक हिस्सा गिर गया.

444

 Kolkata : पश्चिम बंगाल के मिदनापुर में सोमवार को पीएम नरेंद्र मोदी की रैली में भाषण के दौरान एक दुर्घटना हो गयी. खबरों के अनुसार पर पीएम मोदी के भाषण के क्रम में पंडाल का एक हिस्सा गिर गया. इससे अफरा तफरी मच गयी. लोग इधर उघर भागने लगे.  जानकारी के अनुसार 22 लोग गंभीर रूप से घायल हुए हैं. सभी भाजपा समर्थक बताये जाते हैं. हादसा होते ही पीएम की सुरक्षा में लगे एसपीजी के जवानों ने घायलों को पंडाल से निकाला और अस्पताल ले गये. उसके बाद पीएम मोदी अपना भाषण खत्म कर सीधे मिदनापुर मेडिकल कॉलेज पहुंचे और घायलों का हालचाल जाना. मोदी ने अस्पताल के अधिकारियों को घायलों के समुचित इलाज  करने का निर्देश दिया.एक घायल युवती को दिलासा देते हुए मोदी ने कहा-बहुत हिम्मत है बेटा तुम्हारे में. तुम एकदम ठीक हो जाओगी. इसी दौरान मोदी जब दूसरी घायल युवती से हालचाल लेने पहुंचे तो उसने ऑटोग्राफ मांगा. इसके बाद प्रधानमंत्री ने उसे ऑटोग्राफ भी दिया.

इसे भी पढ़ेंः कर्णावती विश्वविद्यालय में बोले सैम पित्रोदा,  मंदिरों से पैदा नहीं होगा रोजगार 

जब  हादसा हुआ, उस समय पीएम मोदी भाषण दे रहे थे

खबरों के अनुसार जब यह हादसा हुआ, उस समय पीएम मोदी भाषण दे रहे थे. पंडाल गिरते ही मौके पर भगदड़ की स्थिति पैदा हो गयी. लोग इधर-उधर भागने लगे. भगदड़ की वजह से कुछ लोग भीड़ में दब  कर घायल हो गये. जानकारी के अनुसार मिदनापुर में बारिश होने की वजह से मैदान गीला हो गया था. कहा जा रहा है कि लोगों की भारी भीड़ के कारण पंडाल पर दबाव बढ़ गया था. पंडाल भीड़ संभाल नहीं पाया और गिर गया.

बंगाल में आज लेफ्ट से भी बदतर हालात हैं

इससे पूर्व पीएम ने अपने भाषण में सरकार की उपलब्धियां गिनाते हुए मोदी ने विपक्षी दलों को आड़े हाथों लिया.
भ्रष्टाचार का जिक्र करते हुए मोदी ने कहा कि यहां सिंडिकेट को बिना चढ़ावा के काम कराना भी मुश्किल है. कहा कि पश्चिम बंगाल की सरकार का हाल हम जानते हैं. किसानों को लाभ नहीं, गरीब का विकास नहीं, नौजवानों को अवसर नहीं. मां, माटी मानुष की बातों करने वालों के पीछे आठ साल का असली चेहरा आज बंगाल के लोगों को भली-भांति पता लग गया है.  राज़्य में अब पूजा करना भी मुश्किल हो गया है. यहां लोकतंत्र लहूलुहान हो चुका है. क्या इसीलिए लेफ्ट सरकार से मुक्ति पायी थी?  वोट बैंक की राजनीति, तुष्टिकरण की राजनीति के कारण बंगाल में सिंडिकेट की सरकार है. बंगाल में आज लेफ्ट से भी बदतर हालात हैं.

इसे भी पढ़ेंःजबरन धर्म परिवर्तन का आरोप, खंडहरनुमा मकान में छिपाई गई थी चार महिलाएं

राज्य में पंचायत चुनाव आतंक और हिंसा के बीच हुए

मोदी ने कहा कि राज्य में पंचायत चुनाव आतंक और हिंसा के बीच हुए थे. ‘जिस धरती से वंदे मातरम, जन गण मन की गूंज उठी, उन महान धरती से ये लेाग वोट बैंक और तुष्टिकरण की राजनीति कर रहे हैं. हमारे दलित कार्यकर्ताओं की हत्या की गयी. मोदी ने कहा कि देश आज परिवर्तन के बड़े दौर से गुजर रहा है. आज सवा सौ करोड़ भारतीय न्यू इंडिया का सकंल्प लेकर बढ़ रहे हैं. समाज का हर वर्ग- गरीब, किसान, महिला, दलित देश को आगे ले जाने के लिए इसकी प्रगति के लिए जुटे हुए हैं. उन्होंने कहा,  भाजपा सरकार सोचती है कि आखिरी छोर के व्यक्ति तक इसका लाभ पहुंचे,   हमारी सरकार ने फसलों का डेढ़ गुना समर्थन मूल्य बढ़ाया. खरीफ की 14 फसलों का एमएसपी मूल्य बढ़ाया. जूट के एमएसपी में हमने 200 रुपये प्रति क्वटिंल बढ़ोतरी की. जूट की औसत कीमत प्रति 2014 में 2 हजार से भी कम थी. किसान अपेक्षित रहता है तब तक देश आगे नहीं बढ़ सकता है. गांव का विकास नहीं हो तो देश आगे नहीं बढ़ सकता.

 प्राकृतिक आपदा भी इन्हें हिला नहीं पायी

पीएम मोदी की रैली के दौरान हुए हादसे पर कहा कि लोग इतने बड़े हादसे के बाद भी शांति और अनुशासन से खड़े हैं. इतना अनुशासन कहीं नहीं देखा. पंडाल टूट गया लेकिन हटने के लिए कोई तैयार नहीं है.  प्राकृतिक आपदा भी इन्हें हिला नहीं पायी. मैं यहां की जनता को नमन करता हूं. पीएम मोदी ने बारिश और भीड़ के बावजूद उन्हें सुनने पहुंचे लोगों को धन्यवाद दिया. पीएम ने कहा कि बारिश और हादसे के बावजूद लोग सभा में मौजूद रहे इसके लिए वे उन्हें धन्यवाद देते हैं.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं. 

nilaai_add

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Comments are closed.