JharkhandLead NewsRanchi

PM मोदी की सुरक्षा में चूक और सिमडेगा में मॉब लिंचिंग घटना: भाजपा ने चलाया हस्ताक्षर अभियान, जताया विरोध

Ranchi : पंजाब में पिछले दिनों सुरक्षा कारणों से पीएम नरेंद्र मोदी का काफिला आधे रास्ते से वापस लौट गया था. इसे लेकर भाजपाइयों में जबरदस्त नाराजगी है. मंगलवार को इस घटना के विरोध में प्रदेश भाजपा की ओर से विरोध जताया गया. साथ ही हस्ताक्षर अभियान भी चलाया गया. इसके अलावा 4 जनवरी को बेसरा जारा गांव (सिमडेगा) में मॉब लिंचिंग के शिकार हुए संजू प्रधान के लिए भी सरकार से न्याय की मांग की गयी. साथ ही सीबीआइ जांच कराये जाने की अपील राज्य सरकार से की गयी.

अरगोड़ा चौक के समीप (हनुमान मंदिर प्रांगण, रांची) चलाये गये हस्ताक्षर अभियान और धरना कार्यक्रम में प्रदेश अध्यक्ष और सांसद दीपक प्रकाश, राष्ट्रीय मंत्री और रांची की मेयर आशा लकड़ा, डिप्टी मेयर संजीव विजयवर्गीय सहित अन्य प्रमुख नेता भी शामिल हुए.

कांग्रेस की खौफनाक साजिश: दीपक

दीपक प्रकाश ने मौके पर कहा कि पंजाब की कांग्रेस सरकार के द्वारा सुनियोजित तरीके से देश के यशस्वी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के सुरक्षा में जान बूझ कर चूक की गयी. हस्ताक्षर अभियान में शामिल होकर कांग्रेस की गंदी, देशविरोधी राजनीति का विरोध किया. लोकतंत्र में विरोध का अधिकार सभी को है पर पंजाब मामले में कांग्रेस की साजिश खौफनाक रही थी.

मेयर आशा लकड़ा ने कहा कि सिमडेगा में दलित संजू प्रधान की निर्ममता से मॉब लिंचिंग में अधमरा कर जिन्दा जला दिये जाने की घटना भयावह है. घटना की सीबीआइ जांच हो. साथ ही पंजाब में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सुरक्षा में किसी बड़ी अप्रिय घटना को अंजाम देने की नीयत अराजक लोगों की थी. पीएम मोदी की सुरक्षा में जानबूझ कर बड़ी चूक की गयी. कांग्रेस को इसके लिए माफी मांगने के साथ-साथ पंजाब के मुख्यमंत्री को इस्तीफा देना चाहिए.

Related Articles

Back to top button