Lead NewsNationalNEWS

पीएम मोदी ने सेना को सौंपी उन्नत अर्जुन टैंक की चाबी

थल सेना की ताकत में इजाफा, पहले से भी भारतीय बेड़े में शामिल 124 अर्जुन टैंक

New delhi: तमिलनाडु की राजधानी चेन्नई में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सेना को और ताकतवर बनाने के लिए सेनाध्यक्ष जनरल एमएम नरवणे को युद्धक टैंक अर्जुन (एमके-1ए) की चाबी सौंपी है. इसी के साथ सेना में 118 उन्नत अर्जुन टैंक शामिल हो जाएंगे. मालूम हो कि भारतीय सेना के बेड़े में पहले से ही 124 अर्जुन टैंक है.

रक्षा अनुसंधान विकास संगठन (डीआरडीओ) के यहां स्थित युद्धक वाहन अनुसंधान एवं विकास प्रतिष्ठान द्वारा निर्मित इस अत्याधुनिक टैंक का डिजाइन देश में ही तैयार और विकसित किया गया है. पूरी तरह स्वदेश में निर्मित अर्जुन टैंक के इस उन्नत संस्करण का निशाना अचूक बताया जा रहा है, जिससे भारतीय सेना की जमीन पर मारक क्षमता को और ज्यादा मजबूती मिलेगी.

 

advt

भारतीय सेना में पहले शामिल 124 टैंक को पश्चिमी रेगिस्तान में तैनात किया गया है.  इन 118 टैंकों से दो रेजिमेंट बनेगा. डीआरडीओ काफी समय से इसको अपडेट करने में जुटा हुआ है.

 

क्या है खासियत

साल, 2004 में देश में ही निर्मित अर्जुन टैंक को सेना में शामिल किया गया था. इस टैंक को काम में लेने के बाद सेना ने इसके उन्नत वर्जुन के लिए कुल 72 तरह के सुधारों की मांग की थी. डीआरडीओ ने सेना के सुझावों को शामिल करते हुए हंटर किलर टैंक तैयार किया था. मार्च में पोकरण में ही इसका परीक्षण किया गया, जिसमें खरा उतरा. नई तकनीक का ट्रांसमिशन सिस्टम लगाया गया है. यह अपने लक्ष्य को खुद तलाशने में सक्षम है. टैंक में कमांडर,गनर,लोडर व चालक का क्रू होगा. यह टैंक युद्धक्षेत्र में बिछाई गई माइंस को साफ करते हुए आसानी से आगे बढ़ सकेगा. केमिकल अटैक से बचाने के के लिए विशेष तरह के सेंसर लगे हैं.

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: