न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

गठबंधन पर पीएम मोदी का वारः वो मजबूर सरकार चाहते हैं, हम मजबूत

1,622

New Delhi: दिल्ली के रामलीला मैदान में बीजेपी के राष्ट्रीय अधिवेशन में बोलेते हुए पीएम मोदी ने सरकार की उपलब्धियां गिनवाई, और एकबार फिर सत्ता में वापसी का दंभ भरा. वहीं विरोधियों पर निशाना साधते हुए कहा कि सिर्फ एक आदमी को रोकने के लिए गठबंधन हो रहा है. लेकिन ये तो ट्रेलर है, फिल्म बाकी है.

प्रधानमंत्री ने कहा कि देश के इतिहास में पहली बार ऐसा हुआ है जब सरकार पर भ्रष्टाचार का एक भी आरोप नहीं लगा है. हम इस बात पर गर्व कर सकते हैं. पिछले साढ़े चार साल में भाजपा के नेतृत्व में जिस तरह हमारी सरकारें चली है, उससे जनमानस में यह भाव स्थापित हुआ है कि देश को ऊंचाई पर अगर कोई दल ले जा सकता है तो वह सिर्फ और सिर्फ भाजपा है.

गठबंधन का अभी तो ट्रेलर

प्रधानमंत्री ने कहा कि पुरानी कहावत है कि जो सोया है उसे उठाया जा सकता है लेकिन जो उठा हुआ है सोने का बहाना कर रहा हो उसे उठाया नहीं जा सकता है. उन्होंने कहा कि सिर्फ एक शख्स को रोकने के लिए, आज वैसे दल एकजुट हो रहे हैं, जिनका जन्म कांग्रेस और कांग्रेस के विरोध पर हुआ था. तेलंगाना में गठबंधन की बुरी तरह से पराजय हुई है. वहीं कर्नाटक में जेडीएस-कांग्रेस के गठबंधन पर निशाना साधते हुए कहा कि वहां के मुख्यमंत्री कहते हैं कि वह कलर्क बन कर रह गए हैं. अभी तो ये ट्रेलर है अभी गठबंधन की फिल्म आनी बाकी है. यह पहला अवसर है जब एक व्यक्ति के विरोध में सब एक हो रहे हैं.

गठबंधन पर निशाना साधते हुए कहा कि ये सब मिलकर एक मजबूर सरकार बनाना चाहते हैं ताकि उनकी दुकान चलती रहे. वो मजबूर सरकार चाहते हैं, लेकिन जनता मजबूत सरकार चाहती है ताकि देश के किसान सशक्त हो सकें. उनका रास्ता दलों को जोड़ना है हम देश की जनता का दिल जोड़ना चाहते हैं.

सवर्ण आरक्षण भारत को नया आयाम देने की कोशिश

Related Posts

#SupremeCourt में #RamJanmabhoomiBabriMasjid विवाद की सुनवाई पूरी, 23 दिन के भीतर फैसला

हिन्दू पक्षकार की ओर से दलील दी गयी कि सुन्नी वक्फ बोर्ड और अन्य मुस्लिम पक्षकार यह सिद्ध करने में विफल रहे हैं कि अयोध्या में राम जन्मभूमि-बाबरी मस्जिद विवादित स्थल पर मुगल बादशाह बाबर ने मस्जिद का निर्माण किया था.

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने कहा कि सामान्य श्रेणी के गरीब युवाओं को शिक्षा और सरकारी सेवाओं में 10% आरक्षण नए भारत के आत्मविश्वास को आगे बढ़ाने वाला है. यह सिर्फ आरक्षण ही नहीं है बल्कि एक नया आयाम देने की कोशिश है. जब हम किसानों की समस्या के समाधान की बात करते हैं तो पहले की सच्चाइयों को स्वीकार करना जरूरी है. पहले जिनके पास किसानों की समस्याओं का हल निकालने का जिम्मा था, उन्होंने शॉर्टकट निकाले, उन्होंने किसानों को सिर्फ मतदाता बनाकर रखा. हम अन्नदाता को ऊर्जादाता भी बनाना चाहते हैं.

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा हमने कोशिशों में कोई कमी नहीं छोड़ी है और कोशिश आगे भी जारी रहेगी. साल 2022 तक किसान अपनी आय दोगुनी करने के साधन जुटा सकें, इसके लिए हम दिन रात जुटे हुए हैं.

इसे भी पढ़ेंः यूपी में बीजेपी के खिलाफ बुआ-बबुआ आये साथ,  38-38 सीटों पर लड़ेंगे चुनाव

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like