JharkhandRanchi

राज्य में हो रही सत्ता प्रायोजित जमीन की लूट, राजस्व विभाग में कागजात के साथ हो रही छेड़छाड़: अमर बाऊरी

Ranchi : पूर्व मंत्री अमर बाऊरी ने राज्य में जमीन की लूट का विषय उठाया है. भाजपा मुख्यालय में बुधवार को आयोजित प्रेस वार्ता में उन्होंने कहा कि राज्य में सत्ता प्रायोजित तरीके से जमीन की लूट मची हुई है. राजस्व विभाग में जमीन के कागजात के साथ छेड़छाड़ की जा रही है. विभागीय गड़बड़ियों की वजह से राज्य में जमीन विवाद और उसके कारण हत्या की घटनाएं बढ़ रही हैं.

पूर्व राजस्व एवं भूमि सुधार औऱ कला संस्कृति मंत्री ने हेमंत सरकार पर आरोप लगाया कि सालभर में वह किसी वादे पर खरा नहीं उतर उतर सकी है. लातेहार, बोकारो में जमीन का री सर्वे का काम रघुवर सरकार में शुरू कराया गया था. पर अब बंद है. वर्तमान सरकार की नाकामी के कारण राजस्व की क्षति राज्य को हो रही है.

इसे भी पढ़ें-JPSC: सिविल सेवा की पीटी में 15 गुना उम्मीदवार ही होंगे चयनित, इंटरव्यू के लिए ढाई गुना

Sanjeevani

1.50 लाख महिलाओं को 1 रुपये में संपत्ति

अमर बाउरी ने कहा कि पिछली सरकार में महिलाओं के सशक्तीकरण के लिए उनके नाम पर 1 रुपये में 50 लाख तक की संपत्ति रजिस्ट्री किये जाने की पहल शुरू की गयी थी. इसका लाभ पांच सालों में 1.50 लाख महिलाओं को मिला भी. पर इस सरकार ने इसे बंद कर दिया. उल्टे इस सरकार में महिलाओं के प्रति आपराधिक घटनाओं में बढ़ोतरी हुई है.

जमीन विवाद को कम करने को बिहार जाकर उन्होंने खुद जमीनों के कागजात, नक्शा को झारखंड लाने का प्रयास किया था. राज्य में जमीन का ऑनलाइन डिजिटलाइजेशन का काम भी किया गया. पर वर्तमान सरकार में जमीन विवाद के मामले लगातार सामने आ रहे हैं. जमीन के नाम पर बिल्डरों का भयादोहन किया जाने लगा है.

इसे भी पढ़ें-गुमला SP ने बाइक से किया अति उग्रवाद प्रभावित क्षेत्रों का दौरा

खनन नहीं, पर्यटन का नारा ढकोसला

अमर बाउरी ने कहा कि हेमंत सोरेन खनन नहीं, पर्यटन का नारा बुलंद करते रहे हैं. पर इस पर एक कदम नहीं चल रहे. रघुवर सरकार में नेतरहाट, पतरातू, दलमा, चांडिल, हजारीबाग, देवघर और अन्य स्थलों को टूरिज्म मानचित्र पर लाया गया. अभी सीएम खुद सपरिवार नेतरहाट और दूसरी जगहों पर जा रहे हैं. राज्य में टूरिज्म पॉलिसी भी पिछली सरकार में लायी गयी थी.

भारत दर्शन के तहत फेज 2 का काम शुरू हो गया था. राज्य में हर धर्म के बीपीएल परिवारों को रघुवर सरकार ने देश भर में भ्रमण कराया था. यह सब बंद हो गया है. खेल नीति का ड्राफ्ट पिछली सरकार में तैयार हुआ था जो अब तक लागू नहीं किया जा सका है.

Related Articles

Back to top button