न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

दो दिसंबर से शुरू हो रहा नक्सली संगठन का पीएलजीए सप्ताह, दे सकते हैं किसी बड़ी घटना को अंजाम

69

Ranchi : नक्सली संगठन पीएलजीए (पीपुल्स लिबरेशन ऑफ गुरिल्ला आर्मी) का पीएलजीए सप्ताह दो दिसंबर से शुरू हो रहा है, जो आठ दिसंबर को खत्म होगा. पीएलजीए सप्ताह पीएलजीए के 19वें स्थापना दिवस के अवसर पर मनाया जायेगा. इस दौरान नक्सलियों द्वारा किसी बड़ी घटना को भी अंजाम दिये जाने की आशंका व्यक्त की जा रही है. अगर नक्सलियों की वारदात पर गौर करें, तो नक्सलियों के अपने पीएलजीए सप्ताह के शुरू में या सप्ताह के अंतिम दिन हिंसात्मक घटनाओं को अंजाम देकर दहशत फैलने का काम करते हैं. नक्सलियों के पीएलजीए सप्ताह को लेकर झारखंड पुलिस हेडक्वार्टर द्वारा पूरे राज्य को अलर्ट कर दिया गया है. पुलिस प्रशासन द्वारा पूरे राज्य में चौकसी बढ़ा दी गयी है.

चलाया जा रहा सर्च ऑपरेशन

दो दिसंबर से आठ दिसंबर तक चलनेवाले नक्सलियों के पीएलजीए सप्ताह के दौरान नक्सली रेलवे ट्रैक, सुदूरवर्ती इलाके के सरकारी भवन, सड़क निर्माण में लगी कंस्ट्रक्शन कंपनी को क्षति पहुंचा सकते हैं. इसके लिए पुलिस मुख्यालय की ओर से झारखंड के सभी जिलों की पुलिस को अलर्ट रहने को कहा गया है. जिन इलाकों में नक्सली संगठनों द्वारा किसी घटना को अंजाम देने की आशंका जाहिर की जा रही है, उन इलाकों में सुरक्षा बलों द्वारा सर्च ऑपरेशन चलाया जा रहा है.

नक्सलियों की बढ़ी चहलकदमी

पीएलजीए सप्ताह को सफलतापूर्वक मनाने को लेकर नक्सलियों ने नक्सल प्रभावित इलाकों में अपनी चहलकमदी बढ़ा दी है. पोस्टरबाजी कर लोगों में दहशत का माहौल कायम कर रहे हैं. नक्सली पोस्टरबाजी कर लोगों को नक्सली संगठन में शामिल होने की बात कह रहे हैं.

गिरिडीह में पीएलजीए सप्ताह को लेकर नक्सलियों ने की पोस्टरबाजी

गुरुवार को ही नक्सली संगठन भाकपा माओवादी ने गिरिडीह के पीरटांड़ व डुमरी इलाके में पोस्टरबाजी की है. चिपकाये गये पोस्टर व बैनर में नक्सलियों ने पीएलजीए (पीपुल्स लिबरेशन ऑफ गुरिल्ला आर्मी) का गुणगान किया है और लोगों से इसमें शामिल होने की अपील की है.

सभी जिलों की पुलिस को कर दिया गया है अलर्ट : आईजी आशीष बत्रा

आईजी आशीष बत्रा कहते हैं कि इसको लेकर सभी जिले की पुलिस को अलर्ट कर दिया गया है. जिन क्षेत्रों में नक्सली द्वारा किसी घटना को अंजाम देने की आशंका जतायी जा रही है, पुलिस उन नक्सल प्रभावित क्षेत्रों में सर्च ऑपरेशन चला रही है.

इसे भी पढ़ें- मेनन एक्का ने रांची में सीएनटी एक्ट का उल्लंघन कर खरीदी जमीन, तत्कालीन एलआरडीसी की भी रही थी मिलीभगत

इसे भी पढ़ें- राजवीर इंफ्राकोन के कई प्रोजेक्ट में विवाद

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

%d bloggers like this: