न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

मेडल प्राप्त करने वाले खिलाड़ियों को मिलेगी सीधी नियुक्ति : रघुवर दास

96

Dhanbad : ओलंपिक या कॉमनवेल्थ जैसे खेलों में पदक जीतने वाले झारखंड के खिलाड़ियों को सीधी नियुक्ति देगी राज्य सरकार. साथ ही 2 प्रतिशत आरक्षण देने का भी प्रयास कर रहे हैं. झारखंड पहला राज्य है जहां खेल एकादमी की स्थापना स्थापना की गयी है. जिसमें विभिन्न खेलों का प्रशिक्षण दिया जायेगा. इनमें हॉकी, तीरंदाजी, वुसू जैसे प्रमुख खेल हैं. उक्त बातें मुख्यमंत्री रघुवर दास ने क्रीड़ा भारती के तीन दिवसीय राष्ट्रीय अधिवेशन के अंतिम दिन बरवाअड्डा स्थित स्पोर्ट्स कॉम्पलेक्स में अपने संबोधन में कही.

इससे पहले मुख्यमंत्री कार्यक्रम में हिस्सा लेने दोपहर 1:10 बजे बरवाअड्डा हवाइ अड्डे पर उतरे. यहां से कड़ी सुरक्षा के बीच मुख्यमंत्री का काफिला सीधे राजकमल परिसर पहुंचा. वहां मोहन भागवत, चेतन चौहान समेत क्रीड़ा भारती की सभी प्रतिनिधियों की मौजूदगी में कार्यक्रम चल रहा था. वहां से 20 मिनट के अंतराल के बाद आरएसएस सरसंघचालक मोहन भागवत, चेतन चौहान, मुख्यमंत्री रघुवर दास, झारखंड के खेल मंत्री अमर बाउरी का काफिला बरवाअड्डा स्थित स्पोर्ट्स कॉम्पलेक्स में पहुंचा.

बरवाअड्डा के स्पोर्ट्स कॉम्पलेक्स को राष्ट्रीय स्तर का बनाने के लिए 4 करोड़ रुपये खर्च करेंगे

मुख्यमंत्री रघुवर दास ने कहा कि मेगा स्पोर्ट्स कांप्लेक्स को राष्ट्रीय स्तर का स्टेडियम बनाने के लिए 4 करोड़ रुपये खर्च करेंगे. साथ ही कार्यक्रम में सूर्य नमस्कार और योग करने वाली 8वीं क्लास की बच्ची को 3 लाख रुपये मुख्यमंत्री कोष से देने की घोषणा की. उन्होंने यह भी कहा कि झारखंड में खेल प्रतिभा की कोई कमी नहीं है यहां भी खेल के क्षेत्र में बहुत प्रतिभाएं हैं. झारखंड के खेल प्रतिभा को निखारने और विश्व स्तर तक पहुंचाने के लिए राज्य में आवासीय खेल सेंटर खोला जा रहा है. इसमें 16 से 22 वर्ष तक के बच्चों को प्रशिक्षण दिया जायेगा. हरेक सेंटर में 32-32 की संख्या में खिलाडियों को चुनकर लिया जायेगा. इसमें तीरंदाजी, वुसु, हॉकी समेत झारखंड के अन्य पारंपरिक और अंतरराष्ट्रीय खेलों का प्रशिक्षण दिया जायेगा.

केंद्र रांची और देवघर में खुलेंगे. उन्होंने यह भी कहा कि जनवरी में झारखंड में खेल महाकुंभ आयोजित करने की योजना बना रहे हैं. आनेवाले बजट में राज्य के 44 सौ पंचायतों में 20 लाख की खर्च से खेल मैदान बनाने का निर्णय लिया जायेगा. सरकार हर साल फुटबॉल का आयोजन पंचायत से लेकर राज्य स्तर तक करती है. इस साल 31 हजार 958 बालक -बालिकाओं ने हिस्सा लिया था. इसके अलावा सरकार हर साल खिलाड़ियों को छात्रवृत्ति दे रही है. इस साल भी 406 लोगों को छात्रवृत्ति दी गयी.

भगवान बिरसा की धरती पर सरसंघचालक का स्वागत है

मुख्यमंत्री ने कहा कि क्रीड़ा भारती के इस अधिवेशन के झारखंड की धरती पर भव्य आयोजन के लिए क्रीड़ा भारती को धन्यवाद करता हूं. कहा कि इस अधिवेशन में मुख्य अतिथि के तौर पर आये आरएसएस के सरसंघचालक मोहन भागवत जी का भगवान बिरसा की धरती पर स्वागत है. साथ ही कहा कि देश में इन दिनों हताश और सत्ताकांक्षी राजनीतिक दलों ने जो संघ को घेरने का प्रयास किया है उसका परिणाम है कि संघ राष्ट्रीय स्तर पर और निखर कर आ रहा है. इसके अलावा नये वर्ष के लिए सभी को शुभकामनाएं देते हुए कहा कि नये साल में हम खेल के क्षेत्र में देश को परम वैभव और नयी बुलंदियों पर ले जायें.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Comments are closed.

%d bloggers like this: