Sports

खिलाड़ियों ने सीधी नियुक्ति के लिए सीएम हेमंत सोरेन से लगायी गुहार, कहा- अनुशंसा समिति की जल्द हो बैठक

Ranchi : राज्य सरकार ने वर्ष 2019 में सीधी नियुक्ति के लिए खिलाड़ियों से आवेदन मंगाया था. फ़रवरी 2020 में आवेदनों की स्क्रूटनी हुई. मापदंडों पर 33 प्लेयर्स के एप्लीकेशन को फाइनल किया गया. पर इसके बाद से सीधी नियुक्ति मामले में कोई अपडेट उनके पास नहीं है. सीधी नियुक्ति प्रक्रिया में आवेदन कर चुके खिलाड़ियों ने अब सीएम हेमंत सोरेन से गुहार लगायी है. बुधवार को मोरहाबादी मैदान में प्लेयर्स जुटे और उनसे अनुशंसा समिति की बैठक कराये जाने का भी आग्रह किया.

इसे भी पढ़ें – मिडिल क्लास की टूट चुकी है कमर, सत्ता को खुश करने के लिए मीडिया भटका रहा ध्यान

4 बार निकल चुका है विज्ञापन

सीधी नियुक्ति भर्ती प्रक्रिया में आवेदन कर चुके खिलाड़ियों के अनुसार अब तक 4 बार खेल विभाग ने आवेदन मंगाया है. नौकरी की आस में हर बार खिलाड़ियों ने आवेदन भरा पर इसके बाद भी कुछ नहीं हुआ. 2019 में निकले विज्ञापन मामले पर खेल विभाग ने 33 प्लेयर्स को बुला कर उनके आवेदनों को फाइनल किया. अब आवेदनों पर अनुशंसा समिति को निर्णय लेना है. 9 जुलाई को समिति की बैठक होने की खबर थी, जो नहीं हो सकी. समिति की बैठक होने से सीधी नियुक्ति मामले पर फैसला लेना आसान होगा. खिलाड़ियों के भविष्य के लिए भी बढ़िया होगा.

advt

सीएम से आस

2014 में जब हेमंत सोरेन सीएम थे, उन्होंने कुछ खिलाड़ियों को नौकरी दी थी. ऐसा राज्य में पहली बार हुआ था जब सरकार ने ऐसी पहल की थी. एक बार फिर से नेशनल-इंटरनेशनल स्तर पर खेल चुके प्लेयर्स को हेमंत सोरेन से ही उम्मीद बंधी है.

इसे भी पढ़ें – सुशांत सिंह राजपूत डेथ केस: केंद्र ने बिहार सरकार की सीबीआई जांच की सिफारिश मानी

15 अगस्त को पदक वापसी

खिलाड़ियों के अनुसार सीधी नियुक्ति प्रक्रिया की आस में उनकी उम्र निकलने को है. मज़बूरी में वे अब रोजी-रोटी के लिए हंड़िया, सब्जी बेचने, मनरेगा में काम करने को विवश होने लगे हैं. ऐसे में राज्य सरकार खिलाड़ियों के हित में आगे बढ़े. ऐसा नहीं किये जाने पर 15 अगस्त को प्लेयर्स अपने पदक सरकार को वापस कर सकते हैं.

इसे भी पढ़ें – रोजगार की उपलब्धता दिखाने के नाम पर मनरेगा में हो रहा फर्जीवाड़ा, बरसात में भी हो रहा डोभा निर्माण

adv
advt
Advertisement

5 Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Articles

Back to top button