न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

नदी महोत्सव सह वृक्षारोपण अभियान : विधायक ओझा ने कहा, एक पेड़ सौ पुत्र के समान

471

Sahibganj : वन पर्यावरण एवं जलवायु परिवर्तन विभाग झारखंड सरकार की और से नदी महोत्सव सह वृक्षारोपण अभियान के तहत जिले में शकुंतला सहाय गंगा घाट तट पर सोमवार दो जुलाई को दोपहर को नदी बचायें, पेड़ लगायें भविष्य को सुरक्षित बनायें के तहत कार्यक्रम का आयोजन किया गया. मुख्य अतिथि राजमहल विधायक अनंत ओझा, डीडीसी नैनसी सहाय, पुलिस अधीक्षक पी जनार्दनन, डीएफओ मनीष तिवारी सहित अन्य ने दीप प्रज्वलित कर कार्यक्रम का शुभारम्भ किया. अतिथियों का बुके देकर स्वागत किया गया. कार्यक्रम में वन प्रमण्डल पदाधिकारी मनीष तिवारी ने कहा कि आज प्रदेश भर में 9 लाख पौधे लगाये जाएंगे. जिले में 83 किलोमीटर का क्षेत्र गंगा का है, गंगा क्षेत्र में ही पेड़ लगाये जायेंगे. कहा कि पेड़ कटने से गुमानी बराज को नुकसान हुआ है. गंगा किनारे इस बार जामुन और अर्जुन के ज्यादातर पेड़ लगाये जा रहे हैं. जामुन की जड़ पानी को स्वच्छ करती है. अर्जुन का पेड़ रोजगार का साधन बनेगा. पेड़ लगाने से गंगा का कटाव रुकेगा. कहा  कि मुख्यमंत्री ने 11 बजे इस कार्यक्रम का शुभारम्भ कर दिया है. स्कूली बच्चे व जिले के लोग 3 पेड़  अवश्य लगायें व इसकी सेवा करें.  श्री तिवारी ने पत्थर व्यवसायी संघ से पेड़ लगाने की अपील की. कहा कि पत्थर व्यवसाय से पेड़ों को नुकसान होता है.

इसे भी पढ़ें – बूढ़ा पहाड़ पर अफसरों की गलती से गयी छह जवानों की जान, कार्रवाई करने व गलती सुधारने के बजाय गलतियों को छिपाने में जुटा पुलिस महकमा ss

डीप बोरिंग के कारण पानी का स्तर कम हो रहा है

डीडीसी नैनसी सहाय ने कहा कि सबसे ज्यादा पेड़ गंगा नदी किनारे लगने हैं. पेड़ो को लगाने के साथ साथ पेड़ों का रखरखाव करना  ज्यादा जरूरी है. तभी पेड़ लगाने का लाभ ले सकेंगे. जिले के पुलिस अधीक्षक पी जनार्दनन ने कहा कि पेड़ लगाने के साथ साथ जागरूकता फ़ैलाने की जरूरत है. विकास के नाम पर बिना सोचे समझे बड़े बड़े पेड़ काटे जाते है. पेड़ काटने के कारण गंगा सूख रही है. पेड़ कटने से सांस लेने में तकलीफ होती है. डीप बोरिंग के कारण पानी का स्तर कम हो रहा है. उऩ्होंने स्कूली बच्चों व जिले के लोगो को दस दस पौधे लगाने के लिए प्रेरित किया.  जिप अध्यक्ष रेणुका मुर्मू ने कहा कि पेड़ों का ज्यादातर कटाव पहाड़ी क्षेत्रो में ज्यादातर हो रहा है, पहाड़ो में क्रशर प्लांट लगाने, खदान के कारण हजारो पेड़ कट रहे है. पेड़ कटने से वातावरण प्रदूषित हो रहा है. पेड़ कटने के कारण वन्य प्राणी विलुप्त हो रहे है. श्रीमती मुर्मू ने कहा कि काजू की खेती के समीप अवैध खनन खदान के लोगो ने अतिक्रमण कर लिया है, जिससे काजू नहीं हो पा रहा है. जिला प्रशासन व वन पदाधिकारी ध्यान दे.

इसे भी पढ़ें – देखिये और जानिये कि आखिर कौन है यूसूफ पूर्ति, जो ग्रामसभा कर भड़काता है आदिवासियों को

हर नागरिक एक एक पेड़ अवश्य लगाये

मुख्य अतिथि राजमहल विधायक अनंत ओझा ने कहा कि पंडित मदन मोहन मालवीय ने जो अंग्रेजों से लड़कर कार्य किया, वैसा ही करना होगा. सामाजिक जन आंदोलन के साथ पेड़ लगायें, नप अध्यक्ष से आग्रह है कि सड़क किनारे भी पेड़ लगाये जायें. एक पेड़ सौ पुत्र के समान है.  इसलिए हर नागरिक एक एक पेड़ अवश्य लगाये. वनप अध्यक्ष श्रीनिवास यादव ने कहा कि बच्चे के जन्म के बाद एक पेड़ अवश्य लगायें. पत्थर व्यवसायी संघ के अध्यक्ष बोदी सिन्हा ने मंच से घोषणा की कि पत्थर व्यवसायी संघ इस साल बीस हजार पेड़ लगाएगा. रेंजर शुक्ला जी ने बताया कि सात पेड़ लगाकर कर्ज दूर कैसे किया जा सकता है. कार्यक्रम से पूर्व आदर्श कन्या उच्च विधालय, पुरानी साहिबगंज स्कूल, आदर्श बालक उच्च विधालय, बंगला बालक विधालय के सैकड़ों स्कूली छात्र छात्राएं स्कूल से रैली निकाल कर मुख्य कार्यक्रम स्थल शकुंतला सहाय गंगा घाट पंहुचे.

शकुंतला सहाय गंगा तट किनारे नारियल फोड़ कर पूजा अर्चना की गयी

मुख्य अतिथि राजमहल विधायक ने शकुंतला सहाय गंगा तट किनारे नारियल फोड़ कर विधिवत पूजा अर्चना कर पेड़ लगाने का कार्य किया. शकुंतला सहाय गंगा तट किनारे मोहग्नि, पीपल, मलेशिया साल, बरगद, अर्जुन, जामुन, सागवान, पानी गमहार सहित अन्य चीजो के लगभग 15 सौ पेड़ लगाये गये. छात्र छात्राओं के अलावा जिला पुलिस बल केजवान, वन विभाग के दर्जनों अधिकार व कर्मी, बीजेपी के दर्जनों नेता,  अधिकारी, जिला परिषद सदस्य, दर्जनों मुखिया, दर्जनों वार्ड पार्षद सहित नप अध्यक्ष उपाध्यक्ष, जिप अध्यक्ष सहित जिले के सैकड़ों महिलाओं व पुरुषो ने पेड़ लगाये.

 कितने पेड़ लगाये जायेंगे

महादेवगंज से सकरीगली के बीच 84 हजार पेड़ लगाये जाएंगे. तालबन्ना फतेहपुर में 56 हजार पेड़ लगाये जाएंगे. पियारघाट से नाशघाट तक 84 हजार पेड़, सीरासिन लैक में 84 हजार पेड़, करमटोला रेलवे स्टेशन से सकरीगली रेलवे स्टेशन के दोनों तरफ तीन हजार पेड़ लगाए जाएंगे. मिर्जाचौकी से करमटोला तक दो हजार पेड़ लगाये जाएंगे. राजमहल रेलवे स्टेशन से करणपुरातो रेलवे स्टेशन तक दो हजार पेड़ लगाये जाएंगे.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं. 

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Comments are closed.

%d bloggers like this: