National

#Petroleum_Minister धर्मेंद्र प्रधान ने कहा, भारत में केवल वही रह सकते हैं जो भारत माता की जय बोलेंगे

NewDelhi :   केंद्रीय पेट्रोलियम मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने शनिवार को कहा कि जो भारत माता की जय बोलने के लिए तैयार हैं, सिर्फ वे ही भारत में रह सकते हैं. उन्होंने NRC का विरोध कर रहे लोगों पर निशाना साधते हुए कहा कि क्या वे देश को धर्मशाला बनाना चाहते हैं.  जान लें कि धर्मेंद्र प्रधान अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद के कार्यक्रम में बोल रहे थे.

इंडियन एक्सप्रेस की रिपोर्ट के अनुसार धर्मेंद्र प्रधान ने राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (RSS) की छात्र इकाई अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद (ABVP) के कार्यक्रम में कहा, आज देश के सामने चुनौती क्या है? एक तरफ देश में नागरिकता है, गिनती की जायेगी की नहीं की जायेगी? क्या उधम सिंह का बलिदान बेकार जायेगा? क्या भगत सिंह का बलिदान बेकार जायेगा? क्या नेताजी सुभाषचंद्र बोस का बलिदान बेकार जायेगा?

इसे भी पढ़े :हेमंत सोरेन ने ली झारखंड के मुख्यमंत्री पद की शपथ, ऐतिहासिक पल के गवाह बने कई दिग्गज  

क्या इस देश को हम धर्मशाला बनायेंगे?

कहा कि क्या इस देश की करोड़ों असंख्य जनसंख्या जिसने स्वतंत्रता संग्राम की लड़ाई लड़ी इसलिए कि आजादी के 70 साल बाद देश इस विषय पर विचार करें कि नागरिकता के बारे में हम गिने या नहीं गिने? क्या इस देश को हम धर्मशाला बनायेंगे? क्या इस देश में जो भी आये वो रहेगा? इस विषय पर चुनौतियां हमे स्वीकार करनी पड़ेगी. इस विचार को स्पष्ट करना पड़ेगा. इस क्रम में कहा कि भारत में भारत माता की जय कहना ही पड़ेगा और ऐसा कहने वाले लोग ही यहां रह पायेंगे.

पेट्रोलियम मंत्री ने रोजगार उपलब्ध कराने की चुनौतियों को लेकर कहा कि ABVP जैसे संगठनों को उद्योग जगत में बढ़ रही स्वायत्ता के बीच बेरोजगारी के मुद्दे का समाधान ढूंढने की दिशा में काम करना होगा. उन्होंने कहा, 21वीं सदी में इस देश की यात्रा में  बिना संदेह ABVP एक पूर्ण बिंदू है. मूल्य आधारित शिक्षा और उद्यमशीलता इस यात्रा के केंद्र में होगी. धर्मेंद्र प्रधान हे कहा कि मैं 1983 से ABVP से जुड़ा हुआ हूं और मेरी सबसे बड़ी उपलब्धियों में से एक ABVP का राष्ट्रीय सचिव बनना है.

इसे भी पढ़े :  #Indian_History_Congress : राज्यपाल आरिफ मोहम्मद खान से CAA पर उलझे इतिहासकार इरफान हबीब

One Comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Related Articles

Back to top button