न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

नवंबर माह में पेट्रोल 6-7 रुपये तक सस्ता हो सकता है : एक्सपर्ट्स

सऊदी अरब द्वारा कच्चे तेल की सप्लाई बढ़ाये जाने से दाम गिर रहे हैं

51

NewDelhi : अंतर्राष्ट्रीय बाजार में कच्चा तेल सस्ता हो जाने और अमेरिकी डॉलर के मुकाबले रुपये में आयी मज़बूती के कारण एक हफ्ते से पेट्रोल-डीजल की कीमतों में गिरावट जारी है. जानकारों के अनुसार अगले एक माह में पेट्रोल 7 रुपये तक सस्ता हो सकता है. एक्सपर्ट्स मान रहे है कि देश में पेट्रोल 6-7 रुपये तक सस्ता हो सकता है. बता दें कि दिल्ली में पिछले सात दिन में पेट्रोल के भाव 82.83 रुपये प्रति लीटर से गिरकर 81.25 रुपये प्रति लीटर पर आ गये है. केडिया कमोडिटा के एमडी अजय केडिया के अनुसार सऊदी अरब द्वारा कच्चे तेल की सप्लाई बढ़ाये जाने से दाम लगातार गिर रहे है.

बता दें कि तीन अक्टूबर को कच्चा तेल अपने इस साल के ऊपरी स्तर 86.74 डॉलर प्रति बैरल पर था. वहीं, अब 13 फीसदी गिरकर कीमतें 76 डॉलर प्रति बैरल आ गयी है. अजय केडिया कहते हैं कि कच्चा तेल यहां से 70 डॉलर प्रति बैरल तक आ सकता है.

इसे भी पढ़ें : छुट्टी पर भेजे गये सीबीआई चीफ आलोक वर्मा के घर के बाहर घूम रहे चार संदिग्ध हिरासत में

रुपया एक अमेरिकी डॉलर के मुकाबले 72.50 रुपये तक आ सकता है

palamu_12

ऐसे में रुपया एक अमेरिकी डॉलर के मुकाबले  72.50 रुपये तक आ सकता है, तो देश में पेट्रोल के दाम 6-7 रुपये तक कम होने का अनुमान है. हालांकि, सरकार ऑयल मार्केटिंग कंपनियों (HPCL,BPCL, IOC) से एक रुपये की छूट वापस लेने के लिए कह सकती है.  एनर्जी एक्सपर्ट्स नरेंद्र तनेजा के अनुसार  ऑयल मार्केटिंग कंपनियां तीन आधार पर पेट्रोल और डीजल के रेट्स तय करती हैं. पहला इंटरनेशनल मार्केट में क्रूड (कच्चे तेल का भाव). दूसरा देश में इंपोर्ट (आयात) करते वक्त भारतीय रुपए की डॉलर के मुकाबले कीमत. इसके अलावा तीसरा आधार इंटरनेशनल मार्केट में पेट्रोल-डीजल के भाव.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

%d bloggers like this: