National

खराब पीपीई किट के खिलाफ आयुर्विज्ञान संस्थान की नर्सों और स्वास्थकर्मियों का प्रदर्शन, छह कर्मी हो चुके हैं संक्रमित

Noida :  कोविड-19 के उपचार के लिए चयनित ग्रेटर नोएडा के राजकीय आयुर्विज्ञान संस्थान (जिम्स) में मंगलवार सुबह 100 से अधिक नर्स व अन्य स्वास्थ्यकर्मी घटिया पीपीई किट दिये जाने के विरोध में बाहर धरने पर बैए गए.

धरने पर बैठे कर्मचारियों का आरोप है कि जिम्स प्रबंधन कर्मचारियों को घटिया किट देकर काम करवा रहा है जिससे अबतक छह स्वास्थ्यकर्मी कोरोना संक्रमित हो चुके हैं. प्रदर्शनकारियों ने एक डॉक्टर पर दुर्व्यवहार का भी आरोप लगाया.

इसे भी पढ़ेंः ये सरकार की पॉलिसी का आम आदमी को तमाचा है

जिम्स के निदेशक ब्रिगेडियर (सेवानिवृत्त) डॉ. राकेश गुप्ता ने प्रदर्शन कर रहे स्वास्थ्य कर्मियों की समस्याएं सुनीं, तथा उन्हें आश्वासन दिया कि उनकी समस्याओं का जल्द निदान किया जाएगा. कर्मचारियों ने उन्हें लिखित शिकायत दी है.

Sanjeevani

डॉ.गुप्ता ने बताया कि विरोध प्रदर्शन करने वाले कर्मचारियों से बात की गई है. उनकी समस्याओं को गंभीरता से सुना गया है और उनका समाधान किया जाएगा. उन्होंने बताया जिस डॉक्टर के ऊपर दुर्व्यवहार का आरोप लगाया है, उसके खिलाफ जांच की जाएगी.

इसे भी पढ़ेंः लॉकडाउन का असर : दिल्ली में शराब पर 70%  कोरोना टैक्स के बाद अब आंध्रप्रदेश सरकार ने भी बढ़ायी कीमत, देश में सबसे महंगी

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Articles

Back to top button