ChaibasaJharkhandNEWS

फेसबुक पर हिंदू देवी-देवताओं पर अभद्र टिप्पणी करने के आरोपी युवकों के खिलाफ 24 घंटे बाद भी कार्रवाई नहीं होने पर लोगों ने  चक्रधरपुर थाना घेरा 

तीनों आरोपी युवकों को हिरासत में लेकर पूछताछ कर रही पुलिस, मामले में दो और शिकायत दर्ज

Chakradharpur : फेसबुक पर हिंदू देवी-देवताओं के बारे में अल्पसंख्यक समुदाय के तीन युवकों द्वारा अभद्र टिप्पणी करने के मामले में चक्रधरपुर पुलिस द्वारा 24 घंटे बाद भी कोई कार्रवाई नहीं करने से लोगों का धैर्य जवाब दे गया. सोमवार की रात सैकड़ों लोगों ने चक्रधरपुर थाना का घेराव कर पोड़ाहाट अनुमंडल डीएसपी कपिल चौधरी के सामने अपनी नाराजगी जतायी.  इस दौरान  हिंदू समाज के दो और लोगों ने लिखित आवेदन देकर कार्रवाई करने की मांग की. थाना का घेराव करने वाले लोगों ने कहा कि फेसबुक पर हिंदू देवी-देवताओं और माता-बहनों के बारे में अभद्र टिप्पणी कर शहर का सौहार्द्र बिगाड़ने का काम किया गया है. इससे हिंदू धर्म के लोगों की भावनाओं को भी ठेस पहुंची है. इसलिए गलत टिप्पणी करने वाले युवकों पर जल्द से जल्द करवाई की जाये. ताकि भविष्य में इस तरह से कोई भी टिप्पणी ना कर सके.

देखें वीडियो

Catalyst IAS
SIP abacus

चक्रधरपुर थाना में हिंदू समाज के लोगों के साथ पोड़ाहाट डीएसपी कपिल चौधरी तथा चक्रधरपुर थाना में पदस्थापित सुमित कुमार अग्रवाल के बीच घंटों चली वार्ता के बाद पुलिस ने आश्वासन दिया कि मामले पर कार्रवाई की जायेगी. तब जाकर मामला शांत हुआ. बता दें ,कि शहर के संतोषी मंदिर के पुजारी प्रभाकर दुबे ने 17 मई 2022 को अपने फेसबुक प्रोफाइल पर एक धार्मिक पोस्ट किया था. इसके बाद मुसिलम समुदाय के तीन युवकों ने सनातन धर्म और महिलाओं के प्रति अश्लील, अभद्र और अमर्यादित टिप्पणी की थी. इसके बाद से ही लोगों में काफी आक्रोश है. इधर चक्रधरपुर पुलिस ने तीनों युवकों को हिरासत में ले लिया है. बता दें कि तीनों युवकों के खिलाफ रविवार को गिरिराज सेना के प्रमुख कमल देव गिरि, विश्व हिंदू परिषद के कुंज बिहारी मिश्र ने आवेदन देकर कार्रवाई करने की मांग की थी. थाना घेराव के दौरान गिरिराज सेना प्रमुख कमल देवगिरि, भाजपा नेता संजय मिश्रा, संजय पासवान, गुड्डू सिंह, विश्व हिंदू परिषद के कुंज बिहारी मिश्र सहित सैकड़ों लोग उपस्थित थे.

Sanjeevani
MDLM

इसे भी पढ़ें – जानिए, पूजा सिंघल की जगह किस अफसर को मिला खान सचिव का प्रभार

Related Articles

Back to top button