JharkhandRanchi

रातू रोड में वोट देकर चोट खाये… नारे के साथ लोगों ने किया विरोध प्रदर्शन

Ranchi : राजधानी स्थित रातू रोड के वार्ड 31 अंतर्गत रांची नगर निगम द्वारा बनाई जा रही सड़क की गुणवत्ता को लेकर रविवार को स्थानीय लोगों ने विरोध प्रदर्शन किया. विरोध प्रदर्शन के दौरान लोगों ने निगम पर सड़क निर्माण के नाम पर करोड़ रुपये बर्बाद करने, काम में लापरवाही, पारदर्शिता नहीं बरतने का आरोप लगाते हुए एक पोस्टर भी लगाया, जिसमें बन रहे “लावारिस” रोड के बारे में जबाव मांगा गया. प्रदर्शन का नेतृत्व कर रहे सामाजिक कार्यकर्ता और राष्ट्र निर्माण सेना के अध्यक्ष अमृतेश पाठक ने न्यूज विंग से बातचीत में कहा है कि कई माह से सड़कों को खोद कर छोड़ दिया गया है. एक माह पहले ही नगर आयुक्त और डिप्टी मेयर संजीव विजयवर्गीय को इसकी जानकारी दी गयी है, लेकिन इस और कोई सुध लेने वाला नहीं है. उन्होंने अपने इस विरोध प्रदर्शन को नाम दिया है “वोट देकर चोट खाये”. विरोध प्रदर्शन करने वालों में कई लोग शामिल थे.

प्रतिदिन आने-जाने वालों को लगती है चोट

अमृतेश पाठक ने बताया कि देवी मंडप रोड रातू स्थित एक व्यस्ततम मार्गों में से एक है. यहां पर धनी आबादी निवास करती है. निगम ने कुछ माह पहले यहां चौड़ीकरण के नाम पर सड़क उखाड़ दी गयी. बोल्डर बीच सड़क पर रख दिये गये और गड्ढे खुले छोड़ दिये गये. लेकिन काम कब तक पूरा होगा, इसकी जानकारी देना निगम ने उचित नहीं समझा. इसका परिणाम यह हुआ कि यहां पर प्रतिदिन आने-जाने वाले गिरते है, और चोट खाते हैं. इसी लिए हमने अपने विरोध का नाम दिया है “वोट देकर चोट खाये”.

इसे भी पढ़ें- राज्य गठन के 18 साल बाद भी पुलिस बल की कमी से जूझ रहा झारखंड, 15 हजार पुलिस की है कमी

सड़क निर्माण में पारदर्शिता जरूरी

उन्होंने बताया कि निगम द्वारा बनायी जा रही सड़क निर्माण में पारदर्शिता होनी जरूरी है. आम जनता को यह जानने का हक है कि अमुक सड़क कितनी राशि से बन रही है. इसे कौन बना रहा है. काम  कितने दिनों में पूरा होगा और यहां कहां से कहां तक बनायी जाएगी. साथ ही यह कितनी लंबी या चौड़ी बनानी हैं. लेकिन इसकी जानकारी किसी स्थानीय को नहीं है. ऑफिसर बैंक कालोनी में रहने वाले रिटायर्ड बैंक अधिकारी बद्री नाथ झा ने कहा कि सड़क पर बालू और नाली में बिल्डिंग मैटेरियल गिरा दिया गया है. कोई बताने वाला नहीं है कि हम कितने दिनों तक परेशानी झेलेंगे.

पिंटू मुंडा और सूरज कुमार नायक ने कहा कि देवी मंडप रोड से एक बड़ा नाला सीधे डैम में निकाला जा रहा है. इस कारण पहले से प्रदूषित डैम का पानी और भी खराब होगा. अविनाश मिश्रा ने कहा कि सरोवर नगर तक आना जाना दूभर हो गया है. गाड़ियों का जाम लगता है. और आपसी लड़ाई भी आये दिन होती है. उन्होंने कहा कि अभी बच्चों के स्कूलों में गर्मी की छूट्टी है. स्कूलों के खुलने पर स्थिति और खराब होगी.

इसे भी पढ़ें- 38 हजार आंगनबाड़ी केंद्रों को चार महीने से नहीं मिला पैसा, बच्चों की खिचड़ी और दलिया पर भी आफत

Telegram
Advertisement

Related Articles

Back to top button
Close