HEALTHJamshedpurJharkhand

Jamshedpur : बहरागोड़ा के 452 गांव के लोगों को नहीं मिल रही है उच्चस्तरीय चिकित्सा की सुविधा, पीएम का खींचा ध्‍यान

Ghatshila : बहरागोड़ा प्रखंड के 452 गांव के लोगों को उच्चस्तरीय चिकित्सा की सुविधा नहीं म‍िल पा रही है. बहरागोड़ा में एक सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र, चार प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र,  38 उप-स्वास्थ्य केंद्र और एक ट्रामा सेंटर वर्षों से बनके तैयार है, लेकिन संसाधनों की कमी की वजह से बंद पड़ी है. ग्रामीण क्षेत्र में रह रहे लोगों को नजदीक में ही स्वास्थ्य सुविधा मिल सके इसके लिए उप स्वास्थ्य केंद्र, प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र और फिर सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र की स्थापना की गई है. लेकिन इन केंद्रों में अव्यवस्था का आलम है. डॉक्टरों की कमी, जांच सुविधा का अभाव और अस्पताल में समुचित स्वास्थ्य सेवा की सुविधा नहीं है. दुर्घटना में घायलों को भी समुचित इलाज नहीं मिल पाता. तमाम दुर्घटनाओं में अक्सर मौत हो जाती है. लोगों को मजबूरन पड़ोसी राज्य पश्चिम बंगाल के मेदिनीपुर, झाड़ग्राम, गोपीबल्लभपुर, तपशिया और ओड‍िशा के बारीपदा, कटक आदि में चिकित्सा के लिए जाना पड़ता है.
इस संबंध में समाजसेवी सह वकील ज्योतिर्मय दास ने प्रधानमंत्री को पत्र लिखकर यहां की समस्या से अवगत कराया है. दास ने पत्र में बताया है क‍ि बहरागोड़ा प्रखंड तीन राज्य झारखंड, बंगाल एवं ओड‍िशा का त्रिवेणी संगम है. यहां की जनसंख्या लगभग दो लाख है. इस क्षेत्र में एक मल्टी-स्पेशियलिटी अस्पताल अति आवश्यक है जिससे यहां के लोगों को काफी सुविधा होगी. विभिन्न बीमारियों के बढ़ते मामलों के साथ, विभिन्न उपचारों के लिए अलग-अलग स्थानों पर जाना यहां के लोगों के लिए आसान या संभव नहीं है.

ये भी पढ़ें-Jamshedpur News : अवैध संबंध में हत्या के मामले में पति-पत्नी की जमानत याचिका खारिज, बैजू सोय की प‍िटाई से हो गई थी मौत

Related Articles

Back to top button