BiharLead News

गोपालगंज में बाढ़ से परेशान हैं लोग, सरकार से राहत की कर रहे हैं मांग

Gopalganj : गोपालगंज में बाढ़ की तबाही से लोग परेशान हैं. गोपालगंज के गंडक नदी में आयी बाढ़ से 42 गांव प्रभावित हुए हैं. वहीं हजारों की आबादी प्रभावित हुई है. आपको बता दें अब गंडक का जलस्तर लगातार कम हो रहा है, लेकिन लोगों की परेशानी कम नहीं हो रही है. गंडक का पानी कम होने से गांव में कटाव हो रहा है, जिससे मांझागढ़ प्रखंड के निमुइया पंचायत के माया तिवारी टोला गांव में दर्जन से ज्यादा लोगों के घर गंडक में विलीन हो गये हैं.

इसे भी पढ़ें :  दीपिका पांडेय सिंह का बड़ा बयान- कांग्रेस विधायकों का हो रहा है चीर हरण

गंडक में आयी इस बाढ़ ने सब कुछ तहस-नहस कर दिया है. अब गंडक का जलस्तर कम हो रहा है लेकिन गांव में कटाव तेज हो रहा है. कटाव रोकने के लिए जिला प्रशासन के द्वारा कोई कारगर कदम नहीं उठाया जा रहा है जिसकी वजह से लोग अपने घरों को तोड़ने के लिए मजबूर हो रहे हैं. घर में लगे दरवाजे-खिड़कियां सब कुछ निकाल रहे हैं, ताकि इन सामान को दोबारा उपयोग में लाया जा सके. बहरहाल कटाव से जहां गोपालगंज के दर्जनों घर और गांव गंडक में पहले ही समा चुके हैं, वहीं अब निमुइया पंचायत का माया जी टोला गांव भी गंडक नदी में विलीन होने के कगार पर है. अब लोगों को इंतजार है सरकार के राहत कार्यक्रम का ताकि उन्हें सरकार से कुछ मदद मिल सके.

advt

इसे भी पढ़ें : कांग्रेस में हेमंत सरकार को बाहर से समर्थन देने पर चल रहा है मंथन

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: