Crime NewsJharkhandRamgarh

पतरातू : जमीन कारोबारी की धारदार हथियार से मारकर हत्या

Ramgarh : जिले के पतरातू में जमीन कारोबारी की धारदार हथियार से मारकर हत्या कर दी गयी. मृतक का नाम राम प्रसाद साहू है. घटना क्षेत्र के साकूल गांव की है. घटना के बारे में बताया जा रहा है कि अपराधियों ने राम प्रसाद साहू के सर और छाती पर धारदार हथियार से वार कर उसे मौत के घाट उतार दिया.

Jharkhand Rai

घटना के बाद यह आशंका जताई जा रही है कि हत्या किसी जमीन विवाद को लेकर की गयी है. वहीं घटना की जानकारी मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंची और शव को कब्जे में लेकर पोस्मार्टम के लिए भेज दिया.

फिलहाल पुलिस मामले की जांच कर रही है. पुलिस यह भी पता लगाने की कोशिश कर रही है कि क्या सच में मृतक का किसी के साथ जमीन विवाद था जिसकी वजह से उसकी हत्या की जा सकती है.

इसे भी पढ़ेंःजम्मू कश्मीरः अनंतनाग में मुठभेड़, दो दहशतगर्द ढेर-एक जवान शहीद

Samford

सोमवार से लापता था मृतक

राम प्रसाद सोमवार की सुबह करीब 10 बजे अपनी बाइक से रांची जाने के लिए घर से निकला था. जिसके बाद देर रात तक घर नहीं पहुंचने पर परिजनों ने उसकी तलाश शुरू की. काफी खोजबीन करने के बाद भी राम प्रसाद का कुछ पता नहीं चला.

जिससे परिजनो को किसी अनहोनी का डर सताने लगा था. रातभर परिजन अपने स्तर से राम प्रसाद की खोज करते रहे. जिसके बाद मंगलवार सुबह राम प्रसाद का शव बरामद हुआ.

इसे भी पढ़ेंःदर्द-ए-पारा शिक्षक: बूढ़ी मां घर चलाने के लिए चुनती है इमली और लाह के बीज, दूध और सब्जियां तो सपने जैसा

गांव के बाहर मिला शव

परिजनों को मंगलवार सुबह सूचना मिली कि राम प्रसाद का शव साकुल गांव के बाहर सड़क पर पड़ा है. परिजन आनन-फानन में मौके पर पहुंचे. शव देखते ही परिजनों का हाल बुरा था. वहीं पुलिस को भी घटना की सूचना मिली. जिसके बाद पुलिस मौके पर पहुंची और मामले की जांच शुरू कर दी.

पुलिस ने मामले को लेकर कहा कि राम प्रसाद की हत्या किसी धारदार हथियार से की गयी है. उसके सर और छाती पर जोर से वार किया गया. जिससे की उसकी मौत हो गयी. अपराधी घटना को अंजाम देकर फरार हो गए और शव को गांव के बाहरी इलाके में छोड़ दिया.

राम प्रसाद की हत्या किन कारणों से हुई है फिलहाल इसका पता लगाने की कोशिश की जा रही है. मृतक के परिजनों से भी पूछताछ की जा रही है. कहीं राम प्रसाद का किसी के साथ कुछ विवाद तो नहीं था जिसकी वजह से उसकी हत्या की जा सकती है.

Advertisement

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: