BiharCrime NewsNEWS

पटना पुलिस ने किया ब्लाइंड मर्डर केस का खुलासा, लूटपाट के दौरान हुई थी रिटायर्ड इंजीनियर की पत्नी की हत्या

कातिल को पुलिस ने किया गिरफ्तार

Patna: राजधानी के नदी थाना क्षेत्र के सबलपुर त्रिवेणी घाट में बीते वर्ष 1 जुलाई 2020 को रेलवे पीडब्ल्यूआई के रिटायर्ड इंजीनियर की बुजुर्ग पत्नी की हुई हत्या मामले का पुलिस ने खुलासा किया है. रिटायर्ड इंजीनियर की पत्नी की हत्या लूटपाट के क्रम में की गई थी. पुलिस ने मोबाइल सर्विलांस के आधार पर लुटेरा गिरोह के चार सदस्यों को गिरफ्तार कर लिया है, वहीं दो लुटेरे फरार बताए जा रहे हैं, जिनकी गिरफ्तारी को लेकर पुलिस लगातार छापेमारी कर रही है.

इसे भी पढ़ें : ADJ उत्तम आनंद मौत मामलाः सीबीआई कोर्ट ने 7 सितंबर तक दोनों आरोपियों की रिमांड अवधि बढ़ाई

advt

गिरफ्तार लुटेरों के पास से पुलिस ने चोरी की दो मोटरसाइकिल, टीवी , 25 हजार नगद और चोरी का तीन मोबाइल भी बरामद कर लिया है. बताया जाता है कि बीते वर्ष 1 जुलाई को 6-7 की संख्या में अपराधियों ने रिटायर्ड इंजीनियर की बुजुर्ग पत्नी लीला चौधरी की लूटपाट के क्रम में गला दबाकर हत्या कर दी थी, बाद में लुटेरे घर में रखा आभूषण, टीवी, मोबाइल, 25 हजार नगद समेत अन्य सामान लूट कर फरार हो गए थे. घटना को अंजाम उस वक्त दिया गया था, जब लीला चौधरी घर में अकेले थी. चार दिनों बाद घर से दुर्गंध उठने पर स्थानीय लोगों की सूचना पर पुलिस ने शव बरामद कर उसे पोस्टमार्टम के लिए नालंदा मेडिकल कॉलेज भेज दिया था.

इसे भी पढ़ें :  लातेहार : तीन माह बाद भी हत्या की रिपोर्ट दर्ज नहीं की, पिरी के ग्रामीणों ने सीएम से लगायी गुहार

अनुसंधान के क्रम में पुलिस को यह जानकारी मिली की बुजुर्ग महिला लीला चौधरी की हत्या लूटपाट के क्रम में की गई थी. पुलिस ने मोबाइल सीडीआर के आधार पर दीपक कुमार नामक लुटेरे को गिरफ्तार किया और उसकी निशानदेही पर कांड में संलिप्त तीन अन्य लोग रोहित डोम, रोशन कुमार और राजन साहनी की गिरफ्तारी संभव हो सकी. फतुहा एसडीपीओ राजेश कुमार मांझी ने बताया कि पहले यह पूरा मामला ब्लाइंड केस था लेकिन पुलिस की सक्रियता से पूरे कांड का उद्भेदन कर लिया गया.

फतुहा डीएसपी ने हत्याकांड के दो फरार आरोपी छेदी उर्फ रोशन पासवान और छोटू पासवान को भी जल्द ही गिरफ्तार कर लिए जाने का भरोसा दिलाया है, वही चोरी का सामान खरीदने वाले दुकानदार की गिरफ्तारी को लेकर भी पुलिस छापेमारी कर रही है. फतुहा डीएसपी ने बताया कि हत्याकांड को अंजाम लीला चौधरी के पड़ोसी दीपक साहनी, रोहित डोम, और रोशन कुमार ने अपने साथियों के साथ मिलकर की थी.

इसे भी पढ़ें :  सेवानिवृत्ति अधिकारियों को IAS में मिलेगी वैचारिक प्रोन्नति, केंद्र तैयार कर रहा नीति

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: