JharkhandRanchi

दांतों के इलाज के लिए भी मरीज की सहमति जरूरीः डॉ रोहित

Ranchi : झारखंड स्टेट डेंटल काउंसिल और इंडियन डेंटल ऐसोसिएशन के सहयोग से रिम्स डेंटल कॉलेज में सोमवार को सेमिनार का आयोजन किया गया. जिसमें डॉ रोहित अग्रवाल ने मेडिकोलीगल विषय पर व्याख्यान देते हुए कहा कि डॉक्टरों और मरीज के बीच में काफी गैप हो गया है. इसको कम करने के लिए डॉक्टरों और मरीजों के बीच को-आर्डिनेशन के लिए इलाज से पहले कंसेंट लेटर लेना चाहिए.

साथ ही कहा कि इलाज की टेक्निक से भी मरीज को अवगत कराने की जरूरत है. जिससे मरीज पूरी जानकारी हासिल करने के बाद अपनी सहमति दे. इससे डॉक्टर मरीज के बीच ट्यूनिंग बनी रहेगी.

advt

इसे भी पढ़ें:RU : एलएलबी एडमिशन के लिए 15 से 30 सितंबर तक करें आवेदन

वहीं डॉ हर्ष प्रियांक ने कहा कि आज की भाग-दौड़ की जिंदगी में लोग तंबाकू खाकर दांतों को खराब कर लेते हैं. ऐसे दांतों को बिना सर्जरी और घिसे नयी ट्रीटमेंट टेक्निक से इलाज किया जाता है.

डेंटल काउंसिल के रजिस्ट्रार डॉ सुशील कुमार ने कहा कि डेंटिस्ट्स को नयी तकनीकों से अवगत कराने के लिए ऐसे कार्यक्रम आयोजित किये जायेंगे. मौके पर डॉ ओम प्रकाश, डॉ विशाल भगत के अलावा काफी संख्या में डेंटिस्ट्स और डेंटल के स्टूडेंट्स मौजूद थे.

इसे भी पढ़ें:JAC : 14 सितंबर से होगी पीटीटी और मदरसा परीक्षा, केंद्र निर्धारित

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: