Corona_UpdatesJharkhandRanchi

होम आइसोलेशन में मरीज, फिर भी नहीं हो रहा सैनिटाजेशन

♦डिप्टी मेयर के पत्र का भी कोई असर नहीं, ट्रैक्टर से सैनिटाइजेशन करने के लिए लिखा था पत्र

Ranchi : राजधानी में कोरोना की सेकंड वेब तेज है. लगातार रिकॉर्ड तोड़नेवाली संख्या में मरीज मिल रहे हैं. जिसमें से कुछ गंभीर मरीज हॉस्पिटल में एडमिट हो रहे हैं, लेकिन ज्यादातर मरीज होम आइसोलेशन में रह कर इलाज करा रहे हैं. ऐसे मरीजों को चिन्हित करते हुए उनके घरों व आसपास के इलाकों को सैनिटाइज करने का आदेश दिया गया है. इसके बावजूद नगर निगम घरों में और आसपास के इलाकों मैं सैनिटाइजेशन नहीं करा रहा है. सैनिटाइजेशन नहीं होने के कारण दूसरों को इंफेक्शन होने का खतरा मंडराने लगा है.

इसे भी पढ़ें – CORONA UPDATE : प्राइवेट हॉस्पिटल में 50 फीसदी बेड कोरोना मरीजों के लिए रिजर्व

डिप्टी मेयर के पत्र का भी कोई असर नहीं

डिप्टी मेयर संजीव विजयवर्गीय ने 2 दिन पहले नगर आयुक्त को पत्र लिख कर पूरे शहर में सैनिटाइजेशन कराने का निर्देश दिया था. जिसमें उन्होंने लिखा था कि शहर में ट्रैक्टर के माध्यम से सैनिटाइजेशन कराया जाये तो कम समय में ज्यादा इलाकों को कवर किया जा सकता है. साथ ही उन्होंने बचाव के लिए सफाईकर्मियों को किट उपलब्ध कराने को भी कहा था. पर उनके पत्र का भी कोई असर नहीं दिख रहा है.

इन इलाकों में सैनिटाइजेशन नहीं

रानी बागान के हरि ओम टावर के पास एक व्यक्ति कोरोना पॉजिटिव पाया गया. इसके बाद भी आज तक सैनिटाइजेशन के लिए न तो गाड़ी आयी और न ही डोर टू डोर सैनिटाइजेशन का काम किया जा रहा है.

बहू बाजार के पास एक महिला कोविड पॉजिटिव पायी गयी. उसके घर में लोग परेशान थे. मरीज को हॉस्पिटल शिफ्ट कर दिया गया, पर घर को सैनिटाइज नहीं कराया गया. अब सवाल ये है कि पॉजिटिव पाये जाने की सूचना हेल्थ डिपार्टमेंट के बाद तत्काल निगम को दी जाती है. कही यह सुस्ती दूसरों पर भारी न पड़ जाये.

इसे भी पढ़ें – उदासीनताः जब चरम पर पहुंचा CORONA तो डॉक्टर ढूंढने में जुटा प्रशासन

Advertisement

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: