JharkhandRanchi

अस्पतालों में मरीजों का इलाज संवेदनशील होकर करें डॉक्टर :  हेमंत सोरेन

Ranchi : मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने राज्य के सरकारी अस्पतालों में मरीजों की उचित देखभाल नहीं होने की शिकायत आने पर नाराजगी जाहिर की है. उन्होंने अधिकारियों को निर्देश देते हुए कहा है कि जिम्मेवारी से अपना पल्ला झाड़ने के बदले समस्या के निराकरण पर जोर दें. इस मानसिकता को बदलना होगा. टाल-मटोल का रवैया अब बर्दाश्त नहीं किया जायेगा.

 

इसे भी पढ़ें : विनय चौबे का सीएम का प्रधान सचिव बनना तय, कार्मिक ने सुनील बर्णवाल समेत चुनाव आयोग भेजे तीन नाम

मुख्यमंत्री अस्पताल के रवैये से नाराज हुए

जान लें कि बिहार के एकंगरसराय निवासी 60 वर्षीय शत्रुघ्न साव की सड़क दुघर्टना में बायें पैर की जांघ की हड्डी टूटने की जानकारी मुख्यमंत्री को ट्वीट के माध्यम से दी गयी थी. हादसे के बाद उन्हें सदर अस्पताल कोडरमा में इलाज हेतु भर्ती किया गया था. लेकिन अस्पताल प्रबंधन द्वारा उनके बेहतर इलाज को प्राथमिकता न देकर उनके परिजनों की प्रतीक्षा करता रहा.

मुख्यमंत्री ने इस घटना पर नाराज़गी प्रकट करते हुए राज्य के सभी अस्पतालों में मरीजों का संवेदनशीलता के साथ इलाज करने का निर्देश दिया. उन्होंने कहा कि अज्ञात मामलों में परिजनों का पता लगाकर सम्पर्क करना पुलिस का दायित्व है. राज्य के सभी डॉक्टर हर मरीज के बेहतर से बेहतर इलाज पर ही अपना ध्यान दें.

रिम्स प्रबंधन को दिया बेहतर इलाज का निर्देश

मुख्यमंत्री ने रिम्स में इलाजरत शत्रुघ्न साव का बेहतर इलाज सुनिश्चित करने का निर्देश रिम्स प्रबंधन को दिया है. मुख्यमंत्री ने रांची के उपायुक्त को मरीज के इलाज के बाद बिहार स्थित उनके पैतृक निवास भेजने हेतु प्रबंध करने को कहा है.

इसे भी पढ़ें : हेमंत मंत्रिमंडल : ओबीसी,  एसटी और फारवर्ड कोटे से होंगे कांग्रेस के मंत्री!

Telegram
Advertisement

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Articles

Back to top button
Close