न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

संत थॉमस स्‍कूल में पैरेंट्स को बताया गया बच्‍चों के लिए इंटरनेट इस्‍तेमाल के सुरक्षित तरीके

205

Ranchi: आज हम डिजिटल युग में जी रहे हैं. ऑनलाइन और उससे जुड़े गैजेट्स से हर कोई घिरा है. बच्‍चे, नौजवान और बुजुर्ग हर कोई इंटरनेट का इस्‍तेमाल कर रहा है. समाज में इंटरनेट कल्‍चर बढ़ने से इससे जुड़े अपराध भी बढ़ गये हैं और जाने-अनजाने बच्‍चे भी ऐसे अपराधों के शिकार हो जाते हैं. बच्‍चों पर इंटरनेट, गैजेट्स के इस्‍तेमाल का क्‍या प्रभाव पड़ता है और उससे उन्‍हें कैसे बचाना चाहिए. इसके प्रति अभिभावकों में जागरूकता के लिए रांची के संत थॉमस स्‍कूल में एक विशेष जागरूकता कार्यक्रम का आयोजन किया गया. संत थॉमस एलुमनी रांची (स्‍टार) के द्वारा आयोजित इस कार्यक्रम में 5वीं और 6ठी क्‍लास में पढ़ने वाले बच्‍चों के माता-पिता और अभिभावकों को साइबर अपराध से जुड़े हर पहलुओं की जानकारी दी गई. साइबर अपराधों से जुड़े विशेषज्ञ कैप्‍टन विनीत कुमार ने उन्‍हें बच्‍चों के इंटरनेट और मोबाइल के उपयोग के सुरक्षित तरीकों की जानकारी दी.

इसे भी पढ़ें: रिजल्‍ट निकले के बाद भी मार्कशीट के लिए विवि का चक्‍कर लगा रहे हैं बीटेक के छात्र

यूट्यूब के चाइल्‍ड मोड में होते हैं बच्‍चों के लिए बेहतर वीडियो कंटेंट

संत थॉमस स्‍कूल रांची में आयोजित इस कार्यक्रम में अभिभावकों ने साइबर विशेषज्ञ कैप्‍टन विनीत से कई सवाल पूछा. विशेषज्ञ ने उनके हर सवाल का जवाब दिया. विनीत ने अभिभावकों को बताया कि सुरक्षित इंटरनेट का इस्‍तेमाल कैसे करें. उन्‍होंने सुरक्षित सोशल मीडिया और ईमेल के इस्‍तेमाल के सही तौर-तरीकों की भी जानकारी दी. उन्‍होंने बताया कि बच्‍चे यूट्यूब के वीडियोज देखते हैं तो चाइल्‍ड मोड का इस्‍तेमाल बेहतर होता है् इस खास मोड में बच्‍चों के लिए विशिष्‍ट वीडियो कंटेंट होते हैं. विनीत ने इस दौरान सोशल इंजीनियरिंग के तौर-तरीकों की भी जानकारी दी.

इस पूरे कार्यक्रम को सफल बनाने में संत थॉमस स्‍कूल के प्रिंसिपल शिबू इब्राहिम मैथ्‍यू, उपाध्‍यक्ष मैम सोनी मैरी मैथ्‍यू, छात्र और संत थॉमस के एलुमनी स्‍टूडेंट् समें अरूंधति चक्रवर्ती, मोहुआ राय, अविनाश कुमार, संजय वासुदेव समेत कई छात्र मौजूद थे.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Comments are closed.

%d bloggers like this: