JharkhandKoderma

बेटी की हत्या के आरोपी मां-बाप को आजीवन कारावास की सजा

Koderma : जिले के तिलैया थाना क्षेत्र के बजरंग नगर निवासी क्रांतिकारी प्रसाद व रमिता देवी द्वारा षड्यंत्र के तहत पुत्री की हत्या किए जाने के मामले की सुनवाई की गयी. इसके पश्चात अपर जिला एवं सत्र न्यायाधीश तृतीय तरुण कुमार की अदालत ने मंगलवार को पिता क्रांतिकारी प्रसाद व सौतेली मां रमिता देवी को दोषी पाते हुए सश्रम आजीवन कारावास की सजा सुनाई. साथ ही 25 हजार रुपया जुर्माना भी लगाया. जुर्माना नहीं दिए जाने पर आरोपियों को 2-2 वर्ष अतिरिक्त सजा भुगतनी होगी.

इसे भी पढ़ें:एयरपोर्ट में ‘पाकिस्तान जिंदाबाद’ के नारे मामले में बंद लिफाफे में सौपी गयी ज्वाइंट रिपोर्ट

क्या है मामला

Catalyst IAS
SIP abacus

घटना का सूचक मृतक के मामा मदन साह ने पुलिस को दिए बयान में कहा था कि उसकी बहन सुशीला देवी की शादी 2001 में क्रांतिकारी प्रसाद पिता स्वर्गीय महावीर प्रसाद के साथ हुई थी. शादी के बाद उन लोगों के द्वारा उसे प्रताड़ित किया जाने लगा. बावजूद वहां किसी प्रकार रही और उसने एक पुत्र और एक पुत्री को जन्म दिया. ज्यादा प्रताड़ित होने के कारण मेरी बहन अपने पुत्र को लेकर मायके चली आई और वहां रहने लगी.

MDLM
Sanjeevani

जबकि क्रांतिकारी प्रसाद ने पुत्री को अपने पास जबरदस्ती रख लिया. मिलने जाने पर वह बच्ची से उसकी मां को मिलने भी नहीं देता था और भगा देता था.

इसे भी पढ़ें:मांडर उपचुनाव में सुरक्षा व्यवस्था संभालेंगे 4 हजार जवान, डीएसपी और इंस्पेक्टर करेंगे जोन की निगरानी

क्रांतिकारी प्रसाद के द्वारा तीसरी शादी रमिता देवी के साथ कर लिया गया था. आस-पड़ोस के लोगों से सूचना मिलती थी कि उसकी भगिनी को क्रांतिकारी प्रसाद व रमिता देवी के द्वारा मारा-पीटा जाता है.

दिनांक 20.09.2018 को संध्या करीब 7 बजे फोन पर उन्हें सूचना मिली कि उनकी भगिनी को पंखे से लटका कर उसकी हत्या कर दी गयी है. पहुंचने पर सारी सच्चाई की जानकारी मिली तब उन्होंने पुलिस के समक्ष मामला दर्ज कराया था.

इसे भी पढ़ें:सीएम हेमंत सोरेन ने लिए दो अहम फैसलेः कॉलेज निर्माण के लिए दी राशि, वनों की कटाई की होगी सीआइडी जांच

Related Articles

Back to top button