न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

पारा शिक्षकों ने कहा- प्रशासन चिंता न करे, पीएम के दौरे में नहीं करेंगे विरोध प्रदर्शन

दो जनवरी को मोरहाबादी मैदान में होगी पारा शिक्षकों की प्रदेशस्तरीय बैठक, बनायी जायेगी आंदोलन की अगली रणनीति

184

Ranchi : पांच जनवरी को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पलामू में मंडल डैम की आधारशिला रखेंगे. पारा शिक्षकों के आंदोलन को देखते हुए पलामू जिला में प्रशासन की ओर से काफी सतर्कता बरती जा रही है. इसी बीच सोमवार को प्रेस विज्ञप्ति जारी कर एकीकृत पारा शिक्षक संघर्ष मोर्चा की ओर से सूचना दी गयी कि पारा शिक्षक  प्रधानमंत्री के आगमन पर किसी तरह का विरोध प्रदर्शन नहीं करेंगे. पारा शिक्षक प्रधानमंत्री का स्वागत करते हैं. इस दौरान पारा शिक्षक न किसी तरह का विरोध करेंगे और न ही काला झंडा दिखायेंगे. मोर्चा की ओर से कहा गया है कि प्रशासन को किसी तरह की चिंता करने की जरूरत नहीं है. गौरतलब है कि राज्य के 67000 पारा शिक्षक 46 दिनों से हड़ताल पर हैं.

Aqua Spa Salon 5/02/2020

पलामू समेत अन्य जिलों में सुरक्षा के कड़े इंतजाम

पारा शिक्षकों के लगातार आंदोलन और प्रदर्शन के कारण पलामू समेत अन्य जिलों में सुरक्षा के कड़े इंतजाम किये गये हैं. विशेष सुरक्षा व्यवस्था पलामू, लातेहार, गढ़वा और चतरा में की जा रही है. बता दें कि पारा शिक्षकों की ओर से रविवार को राज्य के हर जिले में बैठक की गयी, जिसमें आंदोलन को उग्र रूप देते हुए प्रधानमंत्री का विरोध करने की रणनीति बनी, लेकिन सोमवार को मोर्चा की ओर से सूचना दी गयी कि पारा शिक्षक विरोध नहीं करेंगे.

Related Posts

#Bermo: उद्घाटन के एक माह बाद भी लोगों के लिए नहीं खोला जा सका फ्लाइओवर और जुबली पार्क

144 करोड़ की लागत से बना है, डिप्टी चीफ ने कहा-अगले सप्ताह चालू कर दिया जायेगा

मुख्यमंत्री मानें मांग

मोर्चा के बजरंग प्रसाद ने कहा कि मुख्यमंत्री से आग्रह है कि पारा शिक्षकों की मांग मान लें. पिछले 16 सालों से लगातार पारा शिक्षक सुदूर गांवों में बच्चों को शिक्षित करते रहे हैं. ऐसे में शिक्षकों के मानदेय में बढ़ोतरी की जानी चाहिए.

इसे भी पढ़ें- पलामू: पीएम के कार्यक्रम में भीड़ जुटाने का काम अब सरकारी कर्मियों को

इसे भी पढ़ें- ‘बेदाग’ सरकार की पार्टी के राज्यसभा सांसद महेश पोद्दार ने कहा ”घोटाला है राजधानी की…

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like