न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें
bharat_electronics

पलामू: पारा शिक्षकों ने फिर रोकी भाजपा की पदयात्रा, दिखाये काले झंडे-सरकार विरोधी नारे भी लगाये

1,893

Palamu: पिछले दो माह से स्थायीकरण की मांग को लेकर आन्दोलन चला रहे पारा शिक्षक लगातार भाजपा के कार्यक्रमों का विरोध कर रहे हैं. भाजपा की पदयात्रा का विरोध करते हुए इसे रोकने का सिलसिला पूरे जिले में जारी है. इसी क्रम में रविवार को जिले के हैदरनगर में पारा शिक्षकों ने भाजपा की पदयात्रा का विरोध किया. पदयात्रा रोक दी और काले झंडे दिखाये. सरकार के विरोध में नारे भी लगाये.

eidbanner

पुलिस की मदद से पदयात्रा बढ़ी आगे

एकीकृत पारा शिक्षक संघर्ष मोर्चा की हैदरनगर-हुसैनाबाद-मोहम्मदगंज प्रखंड इकाई के संयुक्त तत्वावधान में सत्तारूढ़ भाजपा का पदयात्रा का विरोध किया गया. जैसे ही पदयात्रा हैदरनगर के रेलवे गुमटी पहुंची, पहले से वहां जमे पारा शिक्षक सड़क पर उतर गये. उन्होंने कुछ देर तक भाजपा की पद यात्रा को रोक दी. काले झंडे दिखाये व सरकार विरोधी जमकर नारे लगाये. स्थानीय पुलिस पदाधिकारी कालेश्वर लोहरा व मंटु सिंह के अलावा जवानों ने किसी तरह पारा शिक्षकों को सड़क से हटाकर पदयात्रा को आगे बढ़ाया. विरोध कार्यक्रम में बड़ी संख्या में महिला पारा शिक्षक भी शामिल थीं.

सरकार की शिक्षा विरोधी नीतियों का विरोध

पारा शिक्षकों ने सरकार की शिक्षा विरोधी नीतियों, विद्यालय विलय, पारा शिक्षकों पर दमनात्मक कार्रवाई, विद्यालय में कार्यरत रसोइया का शोषण, पदमुक्त करने एवं शिक्षा में सुधार के नाम पर शिक्षकों के मानसिक उत्पीड़न के खिलाफ रेलवे गुमटी के समीप सभा भी की. सरकार विरोधी गीत गाकर पारा शिक्षकों ने साथियों का मनोबल बढ़ाया.

विरोध से पहले निकाली गयी रैली

mi banner add

भाजपा की पदयात्रा का विरोध करने से पहले हैदरनगर प्रखंड अध्यक्ष वीरेंद्र कुमार सिंह, हुसैनाबाद प्रखंड अध्यक्ष पप्पू पटेल, मोहम्मदगंज प्रखंड अध्यक्ष बद्री राम के नेतृत्व में तीन सौ से अधिक पारा शिक्षक, शिक्षिकाएं एवं रसोइया ने रामवि हैदरनगर बाजार से रैली निकाली. बताते चलें कि पारा शिक्षक अपने मांगों को लेकर 16 नवम्बर से अनिश्चितकालीन हड़ताल डटे व आंदोलित हैं. भाजपा की पदयात्रा में विरोध मार्च में राज्य कोर कमिटी सदस्य राजेशनन्दन सिंह, संयोजक विजय बहादुर सिंह, निरंजन सिंह, इब्रत अहमद, राजेन्द्र राम इकबाल अहमद, माया कुमारी, बृजमोहन मेहता, राजीवरंजन सिंह, सुदामा सिंह, विश्वनाथ राम रवि, रौनक बेगम, आशा कुमारी, वंदना कुमारी, मुशर्रत परवीन समेत सैकड़ों की संख्या में पारा शिक्षक शामिल हुए.

पारा शिक्षकों की मांगों पर जल्द होगा निर्णयः विनोद

भाजपा के वरिष्ठ नेता बिनोद सिंह ने कहा कि केंद्र व प्रदेश सरकार ने विकास के कार्यों के साथ समाज के हर वर्ग को लाभ पहुंचाने के लिए योजनाएं चला रही हैं. उन्होंने पारा शिक्षकों के मुद्दे पर बताया कि लोकतंत्र में सभी को बोलने विरोध करने का हक है. सरकार पारा शिक्षकों की मांगों को लेकर गंभीर है. कमिटी का गठन किया गया है. रिपोर्ट आने पर निर्णय लिया जाना है.

इसे भी पढ़ेंः उत्तर प्रदेश की सभी 80 सीटों पर चुनाव लड़ेगी कांग्रेसः गुलाम नबी आजाद

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

dav_add
You might also like
addionm
%d bloggers like this: