न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें
bharat_electronics

आंदोलन को नयी दिशा देने के लिए मंथन करेंगे पारा शिक्षक

दो जनवरी को मोराहबादी मैदान में प्रदेश स्तरीय बैठक  होगी

1,926

Ranchi: एकीकृत पारा शिक्षक संघर्ष मोर्चा के बैनर तले 30 दिसंबर को झारखंड के सभी जिलों में पार शिक्षकों की बैठक होगी. सभी प्रखंडों के प्रखंड अध्यक्ष, सचिव, कोषाध्यक्ष प्रखंड कमिटी के सदस्य इसमें नयी रणनीति पर चर्चा करेंगे. शिक्षा मंत्री के साथ वार्ता विफल होने के बाद पारा शिक्षक सरकार को घेरने के लिए नयी रणनीति बनाने में जुट गये हैं. एकीकृत पारा शिक्षक संघर्ष मोर्चा के बजरंग प्रसाद ने कहा कि सरकार से वार्ता विफल होने के बाद नयी रणनीति के तहत आंदोलन को नयी शक्ल देने की कवायद की जायेगी. प्रखंड स्तर से पारा शिक्षकों के सुझाव आने के बाद इसकी समीक्षा के लिए दो जनवरी को राज्य स्तरीय बैठक मोराहबादी मैदान में होगी.

eidbanner

मांगों को लेकर नये सिरे से होगी समीक्षा

30 दिसंबर को प्रखंड स्तरीय समीक्षा बैठक के बाद अगामी दो जनवरी को पारा शिक्षकों के नेता आंदोलन को नयी दिशा प्रदान कर सकते हैं. पारा शिक्षक नेता संजय दुबे ने कहा कि सरकार वार्ता के बहाने पारा शिक्षकों को गोल-गोल घुमा रही है. ऐसे में सरकार के समक्ष मांगों को प्रमुखता से रखने की रणनीति बनायी जा रही है. ताकि मंत्रालय खुलने के बाद पारा शिक्षकों के आंदोलन को सही दिशा प्रदान की जा सके.

सरकार का मानेदय मंजूर नहीं

Related Posts

दर्द-ए-पारा शिक्षक: उधार बढ़ने लगा तो बेटों ने पढ़ाई छोड़कर शुरू की मजदूरी, खुद भी सब्जियां बेच निकाल रहे खर्च

इंटर तक पढ़ी हैं दो बेटियां, मानदेय नहीं मिलने के कारण आगे नहीं पढ़ा पा रहे

पारा शिक्षकों के नेता सींटू सिंह ने कहा कि आठ हजार से तेरह हजार रूपये का मासिक मानदेय सरकार की ओर से प्रस्तावित है. यह मानदेय पारा शिक्षकों को किसी रूप में स्वीकार नहीं है. छत्तीसगढ़ की तर्ज पर झारखंड के पारा शिक्षकों को मानेदय एवं अन्य सुविधा मिलनी चाहिए. सत्ता पक्ष के नेताओं से बार-बार वार्ता के बाद इस पर सहमति न बनना असंतोषजनक है. जबतक 20 हजार से 25 हजाय रुपये का मानदेय तय नहीं किया जाता है, तबतक आंदोलन चलता रहेगा. बल्कि मांगें नहीं पूरी होने पर आंदोलन का और उग्र व धारदार बनाया जायेगा.

इसे भी पढ़ेंः नेताओं से लेकर वीवीआइपी हेलीकॉप्टर घोटाले के मामलों ने 2018 में अदालतों को रखा व्यस्त

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

dav_add
You might also like
addionm
%d bloggers like this: