न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

पैरा एशियाई खेल : भारत को 15 स्वर्ण पदक, अब तक का सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन

बैडमिंटन खिलाड़ियों ने शनिवार को प्रतियोगिता के अंतिम दिन दो स्वर्ण और तीन कांस्य पदक जीते.

92

Jakarta : भारत ने एशियाई पैरा खेलों में अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करते हुए 72 पदक अपनी झोली में डाले जिसमें 15 स्वर्ण शामिल रहे. बैडमिंटन खिलाड़ियों ने शनिवार को प्रतियोगिता के अंतिम दिन दो स्वर्ण और तीन कांस्य पदक जीते.

शनिवार को भारत के सभी पांचों पदक बैडमिंटन से

पुरूषों के एकल एसएल3 क्लास बैडमिंटन में भारत के प्रमोद भगत ने इंडोनेशिया के उकुन रूकाएंडी को 21-19 15-21 21-14 से हराकर स्वर्ण पदक हासिल किया.

इसे भी पढ़ें ः मंत्री के अल्टीमेटम के बाद भी नहीं सुधर रही एस्सेल इन्फ्रा, वेतन नहीं मिलने से नाराज सफाईकर्मी गये…

पैरा शटलर तरूण ने प्रतियोगिता के अंतिम दिन भारत की झोली में एक और स्वर्ण पदक डाला। उन्होंने पुरूष एकल एसएल4 क्लास में चीन के युयांग गाओ को 21-16 21-6 से शिकस्त दी.

बैडमिंटन और शतरंज में नौ-नौ पदक

मनोज सरकार ने पुरूष एकल एसएल3 में, मनोज सरकार और प्रमोद भगत तथा आनंद कुमार गौड़ा और नीतेश कुमार की जोड़ियों ने पुरूष युगल एसएल3-एसएल4 पेयर्स में कांस्य पदक जीते.

पैरा एथलेटिक्स ने भारत को आधे पदक (36) दिलाये, जिसमें सात स्वर्ण, 13 रजत और 16 कांस्य शामिल रहे। बैडमिंटन और शतरंज में नौ-नौ जबकि पैरा तैराकी में आठ पदक मिले.

palamu_12

इसे भी पढ़ें ः CM ने धनबाद-चंद्रपुरा के लिए वैकल्पिक रेलमार्ग का काम तेजी से शुरू करने का दिया निर्देश

वर्ष 2014 में 33 पदक किए थे अपने नाम

भारत 15 स्वर्ण, 24 रजत और 33 कांस्य पदक से कुल 72 पदक से तालिका में नौंवे स्थान पर काबिज रहा.

चीन 172 स्वर्ण, 88 रजत और 59 कांस्य से कुल 319 पदक हासिल कर तालिका में शीर्ष पर था जबकि दक्षिण कोरिया (53 स्वर्ण, 45 रजत और 47 कांस्य) और ईरान (51, 42, 43) उसके बाद रहे.

इसे भी पढ़ें : धोनी ने विजय हजारे मैच में खेलने से किया इनकार

वर्ष 2014 में पिछले चरण में भारत ने 33 पदक अपने नाम किये थे. जिसमें तीन स्वर्ण, 14 रजत और 16 कांस्य पदक शामिल थे.

 

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

%d bloggers like this: