BiharLead NewsNationalNEWS

आधी रात को पप्पू यादव को भेजा गया जेल, मधेपुरा कोर्ट में हुई सुनवाई

तीस से अधिक गाड़ियों के काफिले में पप्पू को पटना से मधेपुरा लाया गया

Patna: बिहार के पटना में गिरफ्तार जन अधिकारी पार्टी के नेता व पूर्व सांसद पप्पू यादव को आधी रात को 14 दिन की न्यायिक हिरासत में सुपौल जेल भेज दिया गया है. इससे पहले रात करीब ग्यारह बजे पप्पू भारी तामझाम के बीच मधेपुरा कोर्ट लाया गया. रात को ही कोर्ट खोला गया और मामले की सुनवाई हुई.

 

advt

पप्पू की गिरफ्तारी का विरोध पटना से लेकर मधेपुरा तक देखा गया. करीब तीस गाड़ियों की काफिले के साथ पप्पू को पटना से मधेपुरा लाया गया. उनके समर्थकों ने कई जगह पर विरोध जताया. मालूम हो कि लाकडाउन के नियमों के उल्लंघन का हवाला देते हुए पुलिस ने पप्पू को गिरफ्तार किया था.

 

मधेपुरा कोर्ट में वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से पप्पू की पेशी हुई. पप्पू ने कोर्ट के सामने अपनी बीमारी का भी हवाला बेहतर स्वास्थ्य सुविधा की मांग की. न्यायिक दंडाधिकारी सुरभि श्रीवास्तव ने वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिये पूर्व सांसद को 14 दिन की न्यायिक हिरासत में बीरपुर (सुपौल) जेल भेज दिया और बेहतर इलाज की व्यवस्था का भी आदेश दिया.

 

पुलिस रात करीब 12 बजे पप्पू यादव को बीरपुर (सुपौल) जेल लेकर चली गई. इससे पहले जन आधिकार पार्टी के प्रमुख पप्पू यादव की गिरफ्तारी के विरोध में उनके समर्थकों और पार्टी कार्यकर्ताओं ने जमकर हंगामा किया. पुलिस पप्पू यादव को गांधी मैदान थाने से मधेपुरा ले जा रही थी. इस दौरान उनकी पार्टी के कार्यकर्ताओं ने पुलिस काफिले को रोक लिया. एनएच-19 पर बड़ी संख्या में पार्टी कार्यकर्ता सड़क पर लेट गए और पुलिस वाहनों को रोका और जमकर हंगामा किया.

 

पप्पू यादव ने मीडिया को संबोधित करते हुए कहा, “मुझे भाजपा के इशारे पर गहरी साजिश के तहत जेल भेजा जा रहा है, जबकि मैंने पिछले डेढ़ महीने से लोगों को बचाकर नीतीश कुमार की ही मदद की है. मैं नीतीश कुमार से पूछना चाहता हूं कि आखिर जो मामला हाईकोर्ट में लंबित है, उस मामले में कोरोना काल मे गिरफ्तारी क्या जरूरी थी?”

Advertisement

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: