BiharLead News

32 साल पुराने केस में हुई है पप्पू यादव की गिरफ्तारी, पटना से मधेपुरा भेजने की तैयारी

Patna : एंबुलेंस विवाद में भाजपा सांसद राजीव प्रताप रूडी के खिलाफ बोलना पूर्व सांसद राजेश रंजन उर्फ पप्पू यादव के लिए काफी भारी पड़ गया है. छपरा-पटना में केस दर्ज होने के बाद अब उन्हें एक पुराने मामले में मधेपुरा पुलिस अपने हिरासत में ले लिया है.

पप्पू यादव को 32 वर्ष पुराने मामले में मधेपुरा पुलिस ने गिरफ्तार किया है. इसी साल 22 मार्च को इसको लेकर वारंट जारी हुआ था. मधेपुरा की पुलिस टीम पूर्व सांसद पप्पू यादव को अपने साथ मधेपुरा ले जायेगी और उन्हें जेल भेजेगी.

advt

पुलिस का दावा है कि मुरलीगंज थाना में दर्ज केस नंबर 9/89 में इसी साल 22 मार्च को सुनवाई करते हुए मधेपुरा कोर्ट ने गिरफ्तारी का वारंट जारी किया था. वारंट कुमारखंड आया था. इश्तिहार, कुर्की का नोटिस निकला था.

इसे भी पढ़ेंःरिम्स में फिर बढ़ने लगे कोरोना के मरीज, 605 का चल रहा इलाज

अब इसी वारंट का हवाला देकर वहां की मधेपुरा पुलिस ने पप्पू यादव को अपने जिम्मे लिया है. इसके लिए उदाकिशुनगंज एसडीपीओ के नेतृव में कुमारखंड थाना की पुलिस और कमांडो वारंट लेकर पटना पहुंची थी.

इससे पहले दो दिनों पहले ही छपरा में उनके खिलाफ एफआइआर दर्ज की गयी थी. मंगलवार की सुबह पटना पुलिस उनके घर पहुंच गयी और उन्हें पकड़ कर सीधे गांधी मैदान थाना ले आयी. लॉकडाउन उल्लंघन करने और पीएमसीएच के कोविड वार्ड में घूमने के मामले में उनके ऊपर मजिस्ट्रेट के बयान पर पटना के ही पीरबहोर थाना में एफआइआर दर्ज किया गया था.

सुबह जब से पटना पुलिस ने पूर्व सांसद को अपने कब्जे में लिया है, तब से ही उनके पार्टी के नेताओं और कार्यकर्ताओं की भीड़ घर से लेकर गांधी मैदान थाना तक जुटी हुई है.

पार्टी के लोग लगातार पटना पुलिस के खिलाफ नारेबाजी कर रहे हैं. थाना के मेन गेट के बाहर ही धरना दे रहे हैं. वो लोग लगातार पप्पू यादव के ऊपर हुए इस कार्रवाई का विरोध कर रहे हैं.

इसे भी पढ़ेंःदो और ट्रेनों के बंद होने की संभावना, रांची देवघर और रांची धनबाद इंटरसिटी बंद हो सकती हैं

Advertisement

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: