JharkhandKoderma

पंचायत सेवक 12 हजार घूस लेते गिरफ्तार, मनरेगा बिल पास करने के लिए मांगी थी रिश्वत

विज्ञापन

Koderma: राज्य में भ्रष्ट अधिकारियों के खिलाफ एसीबी की कार्रवाई लगातार जारी है. इसी दौरान शुक्रवार को हजारीबाग एसीबी की टीम ने पंचायत सेवक को 12 हजार रुपये लेते हुए गिरफ्तार किया.

एसीबी हजारीबाग की टीम ने मरकच्चो प्रखंड के दशारो पंचायत के पंचायत सेवक विजय शर्मा को 12000 रुपया रिश्वत लेते रंगे हाथों गिरफ्तार कर लिया. एसीबी कि टीम गिरफ्तार पंचायत सेवक को अपने साथ हजारीबाग लेकर गयी है जहां उससे पूछताछ की जाएगी.

advt

इसे भी पढ़ें- News Wing Impact : रांची के खादगढ़ा सब्जी मार्केट में बनी 39 दुकानों का आवंटन हुआ रद्द

मनरेगा बिल पास कराने के लिए मांगा था घूस

मिली जानकारी के अनुसार पंचायत सेवक विजय शर्मा ने घूस के तौर पर 12000 रुपये की मांग की थी. विजय ने मनरेगा की एक योजना का बिल पारित कराने के नाम पर लाभुक से रिश्वत की मांगी थी. जिसके बाद लाभुक ने एसीबी हजारीबाग से इसकी शिकायत की थी.

शिकायत मिलने के बाद एसीबी की टीम मामले कि जांच में जुट गयी. शिकायत का सत्यापन करने के बाद एसीबी की टीम ने पंचायत सेवक को घूस लेते हुए रंगे हाथों गिरफ्तार किया.

adv

इसे भी पढ़ें- बीजेपी सांसद सिंधिया को कांग्रेस नेता दिग्विजय का जवाबः ‘एक जंगल में एक ही शेर रहता है’

एसीबी ने कराया था मामले का सत्यापन

पंचायत सेवक के द्वारा मनरेगा योजना का बिल पास कराने के नाम पर घूस मांगे जाने की शिकायत के बाद एसीबी ने मामले का सत्यापन कराया. सत्यापन में घूस मांगे जाने की बात सही पायी गयी. इसके बाद एसीबी की टीम ने शुक्रवार को कार्यवाही करते हुए पंचायत सेवक विजय शर्मा को घूस लेते हुए रंगे हाथों गिरफ्तार किया.

इसे भी पढ़ें- कॉमर्शियल माइनिंग के खिलाफ तीन दिवसीय हड़ताल का दूसरा दिन, कोयला उत्पादन और डिस्पैच पूरी तरह ठप

advt
Advertisement

Related Articles

Back to top button
Close