BiharLead News

बिहार में पंचायत चुनाव की कवायद हुई तेज, निर्वाचन आयोग हुआ सक्रिय

Patna : बिहार में पंचायत चुनाव को लेकर निर्वाचन आयोग एक्शन में आ गया है. मालूम हो कि कोरोना के कारण बिहार में पंचायत चुनाव को स्थगित कर दिया गया था.

वहीं, कोरोना की दूसरी लहर के खतरे को देखते हुए लॉकडाउन भी लगाया गया था. नतीजन अब कोरोना का असर कम होने लगा है. इसी के साथ अब बिहार में पंचायत चुनाव की कवायद शुरू हो गयी है. वहीं, बिहार में मानसून को देखते हुए और बाढ़ को ध्यान में रखते हुए यह तैयारी की जा रही है.

सूत्रों की मानें तो, राज्य निर्वाचन आयोग ने इसके लिए आपदा प्रबंधन विभाग को एक पत्र लिखा है, जिसमें बाढ़ प्रभावित जिलों से लेकर प्रखंड और पंचायतों के बारे में विस्तृत रूप से जानकारी मांगी गयी है.

इसे भी पढ़ें : रेप पीड़िता स्वाती के आरोपों पर चिराग ने जानें क्या कुछ कहा

advt

चुनाव आयोग द्वारा कोशिश की जा रही है कि बारिश और बाढ़ प्रभावित पंचायतों का कैलेंडर उपलब्ध हो जाये. ताकि पंचायत चुनाव को दिसंबर तक अंत कराया जा सके.

बता दें कि भारी बारिश के कारण सूबे के कई जिलों में लोगों को बाढ़ की मार झेलनी पड़ती है. जिसके बाद कई परेशानियां उत्पन्न हो जाती हैं. बाढ़ की वजह से लोगों को अपने आवास को त्यागना पड़ जाता है.

ऐसे में आयोग की योजना है कि विस्थापित लोगों के लौटने के बाद चुनाव प्रक्रिया पूरी की जाये. यह भी बता दें कि, अभी ही नेपाल और गंडक नदी के जल ग्रहण क्षेत्र में पिछले 24 घंटे से हो रही भारी बारिश से बाढ़ का खतरा बढ़ गया है. नेपाल के तराई क्षेत्रों में हुई बारिश के बाद गंडक नदी के जलस्तर में भारी वृद्धि हुई है.

इसे भी पढ़ें : हड़िया बेचने वाली 13 हजार से अधिक महिलाओं ने फुलो-झानो आशीर्वाद अभियान से बनाई नई पहचान

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: