न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

पालो टूटी, रेस व चंचल की भूख से मौत मामले की सीबीआई जांच हो: बंधु तिर्की

पूर्व मंत्री बंधु तिर्की ने कहा कि सरकार की देख-रेख में दर्जनों बच्चों को भूख से मार दिया गया.

209

Ranchi: पालो टूटी, रेस और चंचल की भूख से मौत पर झारखंड विकास मोर्चा ने आंदोलन करने की तैयारी कर लिया है. इस मामले पर पार्टी की ओर से राजभवन के समक्ष धरना दिया गया. इस धरने में सभा को संबोधित करते हुए वक्ताओं ने कहा कि सीडब्ल्यूसी रांची और सीडब्ल्यूसी खूंटी के सभी सदस्यों और सहयोग विलेज खूंटी के संचालक पर हत्या का मुकदमा दर्ज करने की मांग की.

धरना को सम्बोधित करते हुए पार्टी महासचिव व पूर्व मंत्री बंधु तिर्की ने कहा कि सरकार की देख-रेख में दर्जनों बच्चों को भूख से मार दिया गया. सरकार ऐसे गम्भीर मसले पर संवेदनहीन बनी हुई है. उन्होंने कहा कि बच्चों की हत्यारी संस्था रांची, खूंटी एवं सहयोग विलेज खूंटी पर अविलम्ब एफआईआर दर्ज कर किया जाय. साथ ही संस्था के लोगों को गिरफ्तार करें और मामले को न्यायालय के सीटिंग जज के देख-रेख में जांच करायें, अन्यथा झाविमो चुप बैठने वाली नहीं है.

इसे भी पढ़ें: अपराधियों का शहर बना राजधानी, 15 दिनों के अंदर तीन हत्याएं

आरएसएस-भाजपा के इशारे पर मिशनरी संस्‍थाओं को किया जा रहा परेशान

वहीं बंधु तिर्की ने राज्य सरकार पर अरोप लगाते हुए कहा कि रघुवर सरकार आरएसएस-भाजपा के इशारे पर जान-बूझकर बच्चों के लिए नि:स्वार्थ भाव से कार्य करने वाली मिशनरी संस्थाओं को परेशान कर रही है.

सीडब्ल्यूसी जैसी संस्था की लापरवाही से हुई दर्जनों बच्चों की मौत की जिम्मेदार सीधे तौर पर रघुवर सरकार है. हम मांग करते हैं कि पूरे मामले की सीबीआई जांच हो और दोषियों को सख्त सजा मिले. वहीं राज्य की हालत पर बोलते हुए कहा कि राज्य में कानून व्यवस्था चरमरा गयी है, मुख्यमंत्री के नाक के नीचे अपराधी हत्या कर रहे हैं. सरकार आदिवासि‍यों की जमीन लूटने पर आमादा है. गोड्डा में किसान-आदिवासियों को सरकार पूंजीपति दोस्तों के बूट से रौंदवा रही है. गरीब किसान पैर पकड़कर अपनी जिंदगी की भीख मांग रहे हैं. 2019 कि लड़ाई बीजेपी बनाम आदिवासी-मूलवासी के बीच होगी.

धरना की अध्यक्षता झाविमो, रांची जिला ग्रामीण के अध्यक्ष प्रभुदयाल बड़ाईक और मंच संचालन महानगगर महासचिव जितेंद्र वर्मा ने किया. कार्यक्रम को महाधरना को केंद्रीय प्रवक्ता सुनीता सिंह, महिला मोर्चा की केंद्रीय अध्यक्ष शोभा यादव, जितेंद्र वर्मा, शिवा कच्छप, मेरी तिर्की, एल्विन टोप्पो, बल्कु उरांव, सूरज टोप्पो,बंधना उरांव, जलील अंसारी,अजय कच्छप, सज्जाद अंसारी, महाबीर नायक, रूपचन्द केवट, अशोक श्रीवास्तव, सुनील टोप्पो(पार्षद), सिस्टर जेमा, अकबर कुरैसी, नाजिर अंसारी, सुरेश शर्मा, भीम शर्मा सहित दर्जनों पार्टी पदाधिकारियों ने संबोधित किया. धरना के उपंरात झाविमो का 10 सदस्यीय प्रतिनिधिमंडल मिला कर राज्यपाल को 16 सूत्री मांग पत्र सौंपा.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Comments are closed.

%d bloggers like this: