Fashion/Film/T.V

फिल्म ‘जैकलिन आइ एम कमिंग’ के डायरेक्टर, राइटर और कोरियोग्राफर हैं पलामू के तीन होनहार

Dilip Kumar

Palamu: पलामू के तीन होनहार बॉलीवुड में अपनी कामयाबी का झंडा गाड़ने में सफल हुए हैं. अपकमिंग फिल्म ‘जैकलिन आइ एम कमिंग’ में राइटर, डायरेक्टर और कोरियोग्राफर बन कर धमाल मचा दिया है.

तीनों पलामू के सुदूरवर्ती गांव से आते हैं. उनकी पढ़ाई-लिखाई प्रमंडलीय मुख्यालय मेदिनीनगर में हुई.

पढ़ाई करने के बाद कुछ करने का जज्बा लेकर मुंबई पहुंचे और आज तीनों एक फिल्म में अलग-अलग भूमिका निभा कर अपनी प्रतिभा का लोहा मनवा दिया है.

इसे भी पढ़ें – #Sahebgunj: नेपाल से पानी छोड़ने के कारण गंगा के दियारा इलाको में हजारों लोग फंसे, रेस्क्यू ऑपरेशन जारी

कैसी है फिल्म ‘जैकलिन आइ एम कमिंग’

आज जब शादी के कुछ ही दिनों के बाद परिवार बिखरने लग रहा है, वैसे समय में पति-पत्नी के बीच के रिश्ते, प्रेम और समर्पण की कहानी ‘जैकलिन आइ एम कमिंग’ 18 अक्टूबर को देश भर में रिलीज हो रही है.

यह फिल्म बॉलीवुड में कमर्शियल फिल्मों की लीक से हट कर बनी है.

पलामू के फ़िल्म प्रेमियों के लिए यह फ़िल्म इसलिए भी खास है क्योंकि इसके राइटर, डायरेक्टर और कोरियोग्राफर तीनों पलामू के ही होनहार हैं.

बंटी दुबे हैं फिल्म के डायरेक्टर

फ़िल्म के तेजतर्रार और युवा डायरेक्टर बंटी दुबे पलामू प्रमंडल के गढ़वा जिला अंतर्गत कांडी के एक छोटे से गांव बलियारी के रहनेवाले शिक्षक रघुनाथ दुबे के बेटे हैं.

उनकी पढाई-लिखाई मेदिनीनगर में ही हुई है. बंटी की शुरुआत थियेटर से हुई, फिर मंडी स्कूल ऑफ़ ड्रामा से कोर्स करने के बाद मुंबई पंहुचे. कई फिल्में, टीवी शो और ऐड फिल्मों को असिस्ट किया.

इसके साथ ही बंटी ने कई शार्ट फिल्मों का भी निर्देशन किया, जिसे देश-विदेश के कई फिल्म फेस्टिवल्स में अवार्ड भी मिला.

वहीं मेदिनीनगर में ही रंगमंच से अपने जीवन की यात्रा शुरू करनेवाले फ़िल्म के लेखक पिंकू दुबे डायरेक्टर बंटी दुबे के बड़े भाई हैं. इन दिनों पिंकू भी मायानगरी में अपने पांव जमा चुके हैं.

कोरियोग्राफर श्रवण ठाकुर भी पलामू से हैं

फ़िल्म के कोरियोग्राफर श्रवण ठाकुर भी पलामू से जुड़े हैं और फ़िल्म के एक कलाकार अमर आनंद का वास्ता भी पलामू से है.

इस तरह से देखा जाये तो बड़े पर्दे की यह पहली फ़िल्म है, जहां पलामू के इतने होनहार एक साथ नजर आयेंगे.

कभी सोचा नहीं था मुंबई जा पाउंगा?

बतौर निर्देशक बंटी दुबे ने बातचीत में बताया कि कभी सोचा नहीं था कि मुंबई आऊंगा, फिल्मों में काम करूंगा और इस लेबल की फिल्म डायरेक्ट करूंगा.

यह सबों का प्यार और समर्पण की बदौलत संभव हो सका. वर्ल्ड सिनेमा की समझ रखनेवाले बंटी दुबे का मानना है आप कुछ अलग हट के काम करो, जो दिल को छू जाये और आपकी फिल्म के किरदार से एक आम आदमी से भी कनेक्ट हो जाये यही सफलता है.

इसे भी पढ़ें – #IndianRailway पर कैश संकट, कई गाड़ियों को बंद करने और साफ-सफाई के लिए स्पॉन्सरशिप पर विचार

मेहनत-प्रतिभा के बल पर पहुंचे मुंबई

आंखों में डायरेक्टर बनने का सपना लेकर जब मुंबई पंहुचे तो सफ़र आसान नहीं था, लेकिन अपनी मेहनत और प्रतिभा के दम पर बॉलीवुड में अपनी एक अलग पहचान बनायी है.

बंटी दुबे को उम्मीद है ‘जैकलिन आइ एम कमिंग’ दर्शकों ज़रूर पसंद आयेगी. फिल्म एक आम आदमी की प्रेम कहानी है, लेकिन बिल्कुल अलग तरह की.

एमडी प्रोडक्शन के बैनर की फिल्म में मुख्य किरदार में अभिनेता रघुबीर यादव हैं, जिन्हें कई सम्मान से नवाजा जा चुका है.

अभिनेत्री दिवा धनोया का नाम साउथ की अच्छी हिरोइन में शुमार है. फिल्म को मनीष गिरि ने प्रोड्यूस किया है और को-प्रोडूसर हैं धनंजय गिरि.

फिल्म के लेखक हैं पिंकू दुबे. संगीत दिया है बिपिन पाटवा ने और बैकग्राउंड म्यूजिक मोंटी शर्मा का है.

फिल्म ‘जैकलीन आइ एम कमिंग’ का ट्रेलर 25 सितम्बर को मुंबई में लॉन्च कर दिया गया है. फिल्म के ट्रेलर को खूब पसंद किया जा रहा है. अब सबको 18 अक्टूबर का इंतज़ार है.

इसे भी पढ़ें – #HoneyTrap: वीडियो क्लिप बनाने के लिए लिपस्टिक व चश्मे में छिपे कैमरे का इस्तेमाल करती थीं लड़कियां

Related Articles

Back to top button