न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

#Palamu:  महिला ने दिया चार बच्चियों को जन्म, एक की मौत, तीन आइसीयू में

933

Palamu: पलामू में एक महिला ने शनिवार को चार बच्चियों को जन्म दिया. हालांकि एक बच्ची की मौत जन्म के दो घंटे के अंदर हो गयी. तीन अन्य की स्थिति को नाजुक देखते हुए उन्हें आइसीयू में रखकर इलाज किया जा रहा है.

मामला जिला मुख्यालय मेदिनीनगर से सटे चैनपुर का है. चैनपुर सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में रीता देवी (30) नामक महिला ने एक साथ चार बच्चियों को जन्म दिया.

Mayfair 2-1-2020

डेढ़ से दो किलो वजन वाली बच्चियों को चिकित्सकीय देखभाल के लिए मेदिनीनगर अस्पताल ले जाया रहा था, पर रास्ते में ही एक ने दम तोड़ दिया.

तीन बच्चियों को मेदिनीनगर के पीएमसीएच में भर्ती कराया गया है, जहां उन्हें आइसीयू में रखा गया है. सिविल सर्जन ने कहा कि तीनों को सप्ताह भर आइसीयू में रखा जायेगा.

इसे भी पढ़ें : रघुवर दास के बढ़ते कद के बीच कंपनियों का बंद होना क्या इत्तेफाक है?

Vision House 17/01/2020

पैदल ही सहिया के घर पहुंची थी महिला

प्रसुता रीता देवी चैनपुर से सटे भड़गांवा पंचायत के पिंडरा गांव के संजय राम की पत्नी है. प्रसव पीड़ा के बावजूद रीता देवी पैदल हीगांव की सहिया प्रभा कुंवर के पास पहुंची.

सहिया ने ममता वाहन के जरिये उसे चैनपुर सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र में भर्ती कराया. इसके बाद शनिवार अहले सुबह करीब 3.30 बजे 15 मिनट के अंदर महिला ने एक के बाद एक चार बच्चों को जन्म दिया.

इसे भी पढ़ें : #Jharkhandalliance : कांग्रेस, जेएमएम व आरजेडी का गठबंधन यानी ऊपर से दिल मिला, भीतर फांके तीन

बच्चियों को देखने के लिए बड़ी संख्या में लोग पहुंचे

चार बच्चों के एक साथ जन्म लेने की खबर फैलते ही उन्हें देखने के लिए अस्पताल में महिलाओं की भीड़ जुटने लगी.

लोग इसे कुदरत का करिश्मा बता रहे थे तो वहीं कई लोग नॉर्मल डिलीवरी से चार बच्चों का सुरक्षित प्रसव कराने के लिए चिकित्सक, एएनएम व अन्य स्वास्थ कर्मियों की सराहना कर रहे थे.

पर एक बच्ची की मौत की खबर के बाद माहौल गमगीन हो गया.

गौरतलब है कि रीता देवी को पहले से एक बेटा है. बीच में एक बेटी भी हुई थी, लेकिन वह जीवित नहीं रह सकी. एक साथ चार बेटियों को जन्म देकर रीता देवी बेहद खुश है.

इसे भी पढ़ें : #ThirdPhase: 8 जिला, 17 विधानसभा सीटों पर 312 उम्मीदवार रण में, जाने कौन कहां से आजमा रहा किस्मत

Ranchi Police 11/1/2020

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like