JharkhandLead NewsPalamu

Palamu : मवेशी चरा रहे ग्रामीणों पर बिजली गिरी, मां-बेटी समेत तीन की मौत

Palamu : पलामू जिले में शुक्रवार को तेज बारिश के दौरान एक बार फिर आसमान से आफत बरसी. वज्रपात से मां-बेटी समेत तीन की मौत हो गयी. जिले के हरिहरगंज थाना क्षेत्र के कुलहिया पंचायत के शिकारपुर में मां-बेटी की मौत हुई है, जबकि छतरपुर थाना क्षेत्र के रामगढ़-अर्जुनडीह में एक बच्चे की मौत हो गयी. दोनों घटनाओं में दो लोग झुलस गये हैं. उनका इलाज सीएचसी में किया गया. दोनों घटनाओं के बाद परिजनों का रो-रो कर बुरा हाल है.
जानकारी के अनुसार हरिहरगंज थाना क्षेत्र के कुलहिया पंचायत के शिकारपुर में एक महिला अपनी दो बेटियों के साथ गांव से बाहर जाकर मवेशी चरा रही थी. इसी क्रम में अचानक तेज बारिश शुरू हो गयी. बारिश के पानी से बचने के लिए तीनों पास के पेड़ के नीचे छिप गयीं. इसी क्रम में वज्रपात हुआ, जिससे तीनों चपेट में आ गयीं.

आनन-फानन में तीनों को इलाज के लिए हरिहरगंज सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र में भर्ती कराया गया, जहां मां और एक बेटी को मृत घोषित कर दिया गया. महिला की पहचान सुरेन्द्र साव की 38 वर्षीया पत्नी चिंता देवी और 14 वर्षीय पुत्री पूजा कुमारी के रूप में हुई है. पूजा सातवीं कक्षा की छात्रा थी. चिंता की दूसरी बेटी 12 वर्षीया शारदा कुमारी इस घटना में बाल-बाल बच गयी. वह आंशिक रूप से जख्मी हुई है.

इसे भी पढ़ें:कब जागेगी जमशेदपुर पुलिस? मासूम बेटे और नाबालिग बेटी के साथ हैवानियत के बाद अब अंधी मां को मिल रही रेप की धमकी

Catalyst IAS
ram janam hospital

ग्रामीणों के अनुसार शिकारपुर चिंता देवी का ससुराल है. चिंता अपनी मां-बाप की इकलौती संतान थी. उसके पिता लखन साव हैं. चिंता की पांच बेटियां हैं. घटना के बाद से चिंता के परिवार पर दुखों का पहाड़ टूट पड़ा है. चिंता का मायका बिहार के अंबा थाना क्षेत्र के किशुनपुर में है.

The Royal’s
Sanjeevani
Pitambara
Pushpanjali

घटना की सूचना मिलने पर पूर्व विधायक कुशवाहा शिवपूजन मेहता, भाजयुमो के जिला उपाध्यक्ष राजीव रंजन, एनसीपी के प्रखंड अध्यक्ष सरोज कुशवाहा, डा. लक्ष्मण, सूरज कुमार सहित अन्य लोग सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र पहुंचे और घटना की जानकारी ली. साथ ही घटना पर दुख व्यक्त किया. पूर्व विधायक ने जिला प्रशासन से अविलंब आपदा के तहत मुआवजा राशि देने की मांग की है.

इसे भी पढ़ें:रेरा का फरमान: 1 जुलाई से पहले जमा करें डॉक्यूमेंट्स नहीं तो कोर्ट में लगेगी हाजिरी, प्रोजेक्ट भी होगा रिजेक्ट

इधर, छतरपुर थाना क्षेत्र के रामगढ़-अर्जुनडीह में वज्रपात से एक बच्चे की मौत हो गयी, जबकि एक बच्चा झुलस गया. मृतक की पहचान अर्जुनडीह ग्राम के संजय यादव के पुत्र छोटू कुमार (उम्र 8 साल) के रूप में हुई है.

बारिश होने पर छोटू कुमार अपनी चाची के साथ भैंस चराने के क्रम में महुआ के पेड़ के नीचे छिप गया था, वज्रपात होने पर विष्णु यादव की 48 वर्षीय पत्नी घायल हो गई, जबकि छोटू की मौत हो गई. महिला का इलाज छतरपुर अनुमंडलीय अस्पताल में चल रहा है.

इसे भी पढ़ें:घायल नदीम को बेहतर इलाज के लिए दिल्ली मेदांता भेजा गया

Related Articles

Back to top button