HEALTHJharkhandPalamuRanchi

पलामू: उपमुखिया की इलाज के दौरान मौत, अस्पताल ने रोका शव, कृषि मंत्री ने बकाया माफ करा शव दिलाया

विज्ञापन

Palamu: जिले के नावाबाजार प्रखंड के कुंभीकला के मुखिया संजय सिंह की मौत के बाद अब उप मुखिया शिवचंद यादव ने भी दम तोड़ दिया है. शिवचंद यादव का इलाज रांची के एक निजी अस्पताल में चल रहा था. ऑपरेशन भी हुआ था, लेकिन बुधवार की तड़के शिवचंद यादव की भी मौत हो गयी.

पूरा पेमेंट के लिए अस्पताल प्रबंधन ने रोका शव

सुबह करीब 3 बजे इलाज के दौरान मौत हो जाने के बाद पूरा इलाज खर्च पूरा नहीं देने पर उपमुखिया का शव अस्पताल प्रबंधन ने शाम तक रोके रखा. करीब 15 घंटे तक शव अस्पताल में पड़ा रहा. इलाज में 3 लाख के आस पास खर्च आया था. 1 लाख 10 हजार रुपये बकाया था.

इसकी सूचना मिलते ही कृषि मंत्री बादल पत्रलेख अस्पताल पहुंचे एवं एक लाख दस हजार रूपये माफ करवाकर उप मुखिया का शव उनके परिजनों को दिलवाया. कृषि मंत्री के साथ प्रदेश कांग्रेस कमेटी के प्रवक्ता आलोक कुमार दूबे, लाल किशोर नाथ शाहदेव, डा राजेश गुप्ता छोटू भी मौजूद थे.

इसे भी पढ़ें- …और यहां लगने लगे ‘मोदी सरकार हाय-हाय’ के नारे

श्रद्धांजलि समारोह में मिली कृषि मंत्री को जानकारी

वरिष्ठ कांग्रेसी नेता अहमद पटेल के श्रद्धांजलि समारोह में कृषि मंत्री बादल पत्रलेख शामिल थे. फोन पर सूचना दी गयी कि 22 नवम्बर को सड़क दुर्घटना में घायल कोरोना पॉजिटिव उपमुखिया रांची के अस्पताल में भर्ती किये गये थे जिनका निधन हो गया और पैसों के अभाव में अस्पताल प्रबंधन मुखिया का शव परिजनों को नहीं दे रहा है.

सूचना मिलते ही कार्यक्रम को बीच में ही छोड़कर 12 मिनट के अंदर कृषि मंत्री अस्पताल पहुंचे एवं अस्पताल प्रबंधन से बात की. साथ ही एक लाख दस हजार रुपये माफ करवा कर उप मुखिया का शव उनके परिजनों को दिलाया. इतना ही नहीं बादल पत्रलेख ने अपने एस्कॉर्ट गाड़ी से शव को पोस्टमार्टम हेतु भेजा एवं वापस घर भेजने में अपने खर्च से ऐंबुलेंस की भी व्यवस्था की.

कृषि मंत्री ने कहा कि किसी भी गरीब का शव पैसे के अभाव में अस्पताल प्रबंधन नहीं रोक सकता है. उन्होंने कहा कि हेमंत सोरेन की गठबंधन सरकार गरीबों के लिए समर्पित है. उन्होंने कहा कि परिजनों को सरकारी सुविधाएं भी दिलाएंगे.

इसे भी पढ़ें- अहमद पटेल के निधन पर कांग्रेसी बोले- कांग्रेस ने अपना ‘चाणक्य’ खो दिया

22 नवंबर को हुई थी दुर्घटना

विदित हो कि नावा बाजार के कुंभी कला पंचायत के मुखिया संजय सिंह व उपमुखिया शिवचंद यादव समेत चार लोग गत 22 नंवबर को पलामू किला मेला देख कर रात्रि में लौट रहे थे. आने के क्रम में नावाबाजार थाना क्षेत्र के तुकबेरा में उनकी बोलोरो पुल से टकरा कर बुरी तरह क्षतिग्रस्त हो गयी थी.

इस घटना में मुखिया संजय सिंह, उपमुखिया शिवचंद यादव समेत चार लोग गंभीर रूप से घायल हो गए थे. सभी को बेहतर इलाज के लिए मेदिनीनगर स्थित पलामू मेडिकल कॉलेज अस्पताल में भर्ती कराया गया था, जहां मुखिया संजय सिंह को मृत घोषित कर दिया गया. जबकि उप मुखिया शिवचंद यादव व अन्य को रांची रेफर कर दिया था.

इसे भी पढ़ें- बिना हेलमेट पहने पकड़ी गयीं मंत्री चंपई सोरेन की बेटी, बीच सड़क पर हुआ हंगामा

advt
Advertisement

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: