Palamu

पलामू: ODF के एक वर्ष बाद भी जमा नहीं हुआ यूसी, छह के खिलाफ दर्ज होगी प्राथमिकी

Palamu: पलामू जिला एक साल पहले ही ओडीएफ घोषित हो चुका है. करीब 3 लाख के आसपास शौचालय बना दिये गये हैं. लेकिन कई पंचायतों से शौचालय बनाये जाने से संबंधित उपयोगिता प्रमाण पत्र अब तक जमा नहीं कराया गया है.

Jharkhand Rai

जिससे शौचालय निर्माण में बड़े पैमाने पर राशि की हेराफेरी की संभावना बन गयी है.

हुसैनाबाद के तीन पंचायतों में 506 शौचालय का निर्माण पेडिंग

हुसैनाबाद की तीन पंचायतों में 506 शौचालय का निर्माण कार्य लंबित है. यानि 6 लाख 72 हजार रूपये का कहीं कोई अता-पता नहीं है. हुसैनाबाद अनुमंडल पदाधिकारी कुंदन कुमार की अध्यक्षता में जलशक्ति अभियान, प्रधानमंत्री आवास योजना, एसबीएम को लेकर संबंधित अधिकारियों के साथ समीक्षा बैठक की गई.

इसे भी पढ़ेंःझारखंड में क्रशर और कंस्ट्रक्शन कंपनियों में मजदूर बन काम कर रहे नक्सली, रेकी कर वसूलते हैं लेवी

Samford

जिसमें अनुमंडल की महुडंड में 316, डंडिला में 21 व बेनिकला पंचायत में 169 शौचालय निर्माण का कार्य लंबित रहने की बात सामने आयी.

तीन मुखिया, तीन जलसहिया के खिलाफ कार्रवाई

लंबे समय से शौचालय निर्माण से संबंधित उपयोगिता प्रमाण पत्र जमा नहीं करने वाले इन तीनों पंचायत के मुखिया क्रमशः अखिलेश पासवान, विजय यादव व प्रीति सिंह और तीनों पंचायत की जल सहिया पर प्राथमिकी दर्ज करने का निर्देश बीडीओ को दिया गया.

एसडीओ ने कहा कि मुखिया की वित्तीय शक्ति जब्त कर संबंधित पंचायत के उपमुखिया को पंचायत का प्रभार देने की प्रक्रिया भी करें. हुसैनाबाद बीडीओ को दोषी जल सहिया के स्थान पर ग्राम सभा आयोजित करा कर जल सहिया का चयन करें.

बैठक में यह भी सामने आया कि पूर्व में ऊपरी कला और सड़ेया पंचायत के मुखिया तथा जल सहिया के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की गई है. प्राथमिकी दर्ज के किये जाने के बाद भी उन्हें गिरफ्तारी नहीं किया गया.

अनुमंडल पदाधिकारी ने हुसैनाबाद के अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी व संबंधित थाना प्रभारी से अविलंब गिरफ्तारी कर सूचना उपलब्ध कराने का निर्देश दिया है.

इसे भी पढ़ेंःअरुण जेटली  की हालत  नाजुक, केंद्रीय मंत्री जीतेंद्र सिंह जेटली से मिलने एम्स पहुंचे

उन्होंने मनरेगा की समीक्षा के दौरान जलशक्ति अभियान के तहत पंचायतों में लक्ष्य के अनुरूप टीसीबी का निर्माण नही कराने वाले रोजगार सेवक, पंचायत सेवक और मुखिया के विरुद्ध मनरेगा अधिनियम के तहत विभागीय कार्रवाई की जायेगी. इसके लिये प्रस्ताव पलामू के उपविकास आयुक्त को भेजा गया है.

बैठक में सभी प्रखंड विकास पदाधिकारी को रोजगार सेवकों के साथ बैठक करने का निर्देश दिया गया. लक्ष्य के अनुरूप कार्य को शीघ्र पूर्ण कराया जाये.

बैठक में हुसैनाबाद बीडीओ लक्ष्मी नारायण किशोर, हैदरनगर बीडीओ राहुल देव, मोहमदगंज बीडीओ प्रदीप कुमार दास, बीपीओ अमन कुमार, आशीष कुमार समेत कई अधिकारी व अभियंता उपस्थित थे.

इसे भी पढ़ेंःजानें आगामी विधानसभा चुनाव में आजसू का क्या होगा ?

Advertisement

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: