JharkhandPalamu

पलामू : सड़क हादसे में भाजपा आइटी सेल के जिला संयोजक समेत दो की मौत

Palamu : पलामू जिले में एक बार फिर रफ्तार का कहर बरपा. दो अलग-अलग सड़क हादसों में दो युवकों की मौत हो गयी. सतबरवा में हुई सड़क दुर्घटना में पलामू जिला भाजपा आइटी सेल के संयोजक ई. राहुल शर्मा (26 वर्ष) की मौत हो गयी, जबकि पांकी थाना क्षेत्र के तेतराई में हुई सड़क दुर्घटना में शादी का कार्ड बांटकर आ रहे एक युवक हादसे का शिकार हो गया.

इसे भी पढ़ें : आदिवासी अस्तित्व बचाओ महारैली पर जिला प्रशासन ने लगायी रोक, आयोजक बोले सरकार आदिवासी आवाज दबाना…

भाई की शादी का कार्ड बांट कर लौट रहा था युवक  

पांकी-मेदिनीनगर मुख्य पथ पर तेतराई के समीप बाइक पलटने से धर्मेंद्र कुमार (20 वर्ष) की घटनास्थल पर मौत हो गयी, जबकि धर्मेन्द्र कुमार (19वर्ष) नाम का ही दूसरा युवक गंभीर हो गया. घटना सुबह साढ़े सात बजे की है. सूचना मिलते ही पांकी पुलिस घटनास्थल पहुंची और घायलों को तुरंत पांकी अस्पताल में भर्ती कराया. प्राथमिक उपचार के पश्चात बिगड़ती हुई स्थिति को देखते हुए उन्हें सदर अस्पताल रेफर कर दिया गया. बाइक पर कुल तीन लोग सवार थे. तीसरे युवक रोहित कुमार मेहता को कही कोई चोट नहीं आयी है.

advt

इसे भी पढ़ें : अन्नपूर्णा देवी बीजेपी में शामिल, गौतम सागर राणा को झारखंड राजद की कमान

बाइक की स्पीड थी ज्यादा

जानकारी के अनुसार धर्मेंद्र एवं रोहित मेदिनीनगर के सुदना के रहने वाले हैं. धर्मेंद्र पांकी के सोरठ से अपनी मौसी के यहां शादी का निमंत्रण कार्ड देकर अपने दोस्तों के साथ मेदिनीनगर लौट रहा था. उसके भाई मुकेश की हाल ही में शादी होने वाली थी. बाइक की रफ्तार इतनी तेज थी कि दुर्घटना के बाद बाइक सवार युवक सड़क के काफी दूर चला गया. चालक ने हेलमेट नहीं पहन रखा था. हेलमेट पहने रहते तो युवक की मौत नहीं होती.

इसे भी पढ़ें : चंद्रप्रकाश चौधरी होंगे गिरिडीह सीट से आजसू उम्मीदवार, सुदेश ने की घोषणा

पांकी-मेदिनीनगर पथ पर लगातार हो रही दुर्घटनाएं 

पांकी पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए सदर अस्पताल भेज दिया है. पांकी-मेदिनीनगर पथ इन दिनों मौत की सड़क बन गयी है. अभी कुछ दिन पूर्व ही बाइक दुर्घटना में डंडार के दुखन शर्मा की मौत हो गयी थी. सड़क की स्थिति भी काफी जर्जर हो गयी है. इस मार्ग से सैकड़ों मालवाहक वाहन प्रतिदिन गुजरते हैं.

adv

इसे भी पढ़ें :अखबारों में छपी खबर के आधार पर 16 पर आचार संहिता उल्लंघन का मामला दर्ज

ट्रक के धक्के से भाजपा नेता की मौत

इधर, एनएच 39 पर सतबरवा थाना क्षेत्र के लहलहे-बीसफुट्टा कुआं के समीप ट्रक की चपेट में आने से भाजपा आइटी सेल के संयोजक ई.राहुल शर्मा की मौत हो गयी. आइटी सेल का काम निपटाने के बाद राहुल मेदिनीनगर से सतबरवा अपने घर लौट रहे थे. इसी बीच पीछे से तेज गति से आ रहे एक ट्रक ने बाइक को अपनी चपेट में ले लिया. हादसे के बाद राहुल बाइक सहित 10 मीटर दूर सड़क किनारे जा गिरे. सुनसान रास्ता होने कारण कुछ देर बाद लोगों को इसकी जानकारी हुई.

सूचना मिलने पर स्थानीय लोगों ने एम्बुलेंस का प्रबंध कर राहुल शर्मा को इलाज के लिये सदर अस्पताल में भेजवाया. सिर में गहरी चोट के चलते अधिक रक्तस्राव हो गया था. अस्पताल पहुंचने पर चिकित्सकों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया. सोमवार को पोस्टमार्टम के बाद शव घर पर पहुंचते ही कोहराम मच गया. मौके पर दर्जनों लोग इकठ्ठे हो गये. मां और पिता रमेश शर्मा के साथ पत्नी रूबी देवी शव को देख बार-बार बेहोश हो रही थी. राहुल का एक अबोध बच्चा भी है, जिसकी छठी होली के पहले हुई थी.

पांकी के कारीहार में दो साल पहले उसकी शादी हुई थी. भाजपा नेताओं ने राहुल की मौत को अपूरणीय क्षति बताया है. पलामू सांसद वीडी राम के साथ जिला अध्यक्ष नरेंउ्र पांडेय, युवा मोर्चा जिला अध्यक्ष के अलावा सांसद प्रतिनिधि मनीष कुमार, रवि प्रसाद, विपीन उपाध्याय, पंपू सिंह, विनय सिंह, बीपी गुप्ता, अजय उरांव समेत कई लोगों ने घटना को त्रासदी करार दिया. दोपहर में दाह संस्कार का कार्यक्रम मलय नदी में किया गया.

इसे भी पढ़ें : वामपंथियों को शामिल नहीं किया गया, महागठबंधन ‘महा’ नहीं बन सका : दीपंकर

भाजपा के चुनाव प्रचार पर पडे़गा असर

राहुल शर्मा की मौत के बाद भाजपा के चुनावी अभियान पर असर पड़ने की संभावना है. विजन इंडिया के बैनर तले काम कर रहे राहुल सांसद-विधायक के साथ तमाम पदाधिकारी और जनता से तालमेल बनाकर विकास योजनाओं को धरातल पर लाने का प्रयास कराते थे. आईटी सेल में दर्जनों लोग कार्यरत हैं. वहीं आइटी सेल के जरिये टिकट लेने वाले प्रत्याशियों की लोकप्रियता का पैमाना भी मापा जाता हैं.

इसे भी पढ़ें : अग्रवाल ब्रदर्स हत्याकांड के 19 दिन बीत जाने के बाद भी पुलिस की गिरफ्त से दूर है मुख्य आरोपी लोकेश…

advt
Advertisement

Related Articles

Back to top button