JharkhandPalamu

पलामू : हिरण के मांस के साथ दो गिरफ्तार, हथियार बरामद

Palamu : पलामू टाइगर रिजर्व में जंगली जानवरों के लगातार हो रहे शिकार की सूचना पर मंगलवार की रात बड़ी कार्रवाई की गयी. गुप्त सूचना के आधार पर बेतला रेंज में छापामारी की गयी. इस दौरान दो शिकारियों को हिरण के मांस, बंदूक और पिस्तौल के साथ गिरफ्तार किया गया.

इसे भी पढ़ें : जदयू की घोषणा : पार्टी सात सीटों पर लड़ेगी चुनाव, कार्यकर्ता झांकने लगे इधर-उधर

दोनों को भेजा गया जेल 

Catalyst IAS
ram janam hospital

बेतला रेंज के फॉरेस्टर सुशील पांडेय ने बताया कि दोनों को उस समय गिरफ्तार किया गया, जब वे एक हिरण का शिकार करने के बाद उसके कुछ मांस को पका रहे थे. दोनों पर वन्य प्राणी अधिनियम संरक्षण 1972 की विभिन्न धाराओं के तहत मामला दर्ज करते हुए जेल भेज दिया गया है.

The Royal’s
Sanjeevani

पलामू के रहने वाले हैं दोनों शिकारी 

फॉरेस्टर ने जानकारी दी कि गिरफ्तार दोनों अपराधी पलामू जिले के सलैया क्षेत्र के निवासी रामदेव परहिया और झमन परहिया हैं. बेतला रेंज में जानवरों की लगातार शिकार होने की सूचना प्राप्त हो रही थी. सूचना के सत्यापन के बाद गुप्तचर को लगाया गया था. मंगलवार की रात हिरण का शिकार करने के बाद जैसे ही दोनों अपराधी भागने के फिराक में थे, वैसे ही उन्हें रंगेहाथ दबोच लिया गया.

इसे भी पढ़ें : 5 लाख के साथ पकड़ा गया जेएमएम के पूर्व विधायक अकील अख्‍तर का बेटा अफीफ

हिरण के कच्चे-पक्के मांस बरामद

दोनों के पास हिरण के कच्चे और पक्के मांस के अलाव खून से सना हिरण का सिर, खून लगी कुलहाड़ी और एक देशी कट्टा भी बरामद किया गया है. दोनों ने पूछताछ के दौरान भी स्वीकार किया कि उन्होंने हिरण का शिकार किया है.

पहली बार किया था हिरण का शिकार

फॉरेस्टर ने बताया कि वन्य प्राणी अधिनियम संरक्षण के तहत अगर कोई भी व्यक्ति जंगली जानवर की हत्या करते साक्ष्य के साथ गिरफ्तार होता है, तो उस पर नन बेलेबल एक्ट के तहत केस चलता है. उन्होंने बताया कि गिरफ्तार दोनों ग्रामीण पहली बार जंगली जानवर का शिकार करते पकड़े गये हैं.

इसे भी पढ़ें : गुमला के मुरकुंडा जंगल से पीएलएफआइ के तीन उग्रवादी गिरफ्तार

Related Articles

Back to top button