न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

पलामू : पुलिस संस्मरण दिवस पर शहीदों को दी गयी श्रद्धांजलि, देश पर मर मिटने का लिया गया संकल्प 

शहीदों को श्रद्धांजलि देते डीआईजी, एसपी एवं अन्य तथा रक्तदान करते सीआरपीएफ अधिकारी एवं अन्य 

117

Dilip Kumar

Palamu : पुलिस संस्मरण दिवस पर शनिवार को पलामू समेत राज्यभर में समारोह आयोजित कर शहीदों को श्रद्धांजलि दी गयी. जिला मुख्यालय डालटनगंज स्थित पुलिस स्टेडियम परिसर में मुख्य समारोह का आयोजन किया गया. शहीद वेदी के सामने शस्त्र झुकाकर कर शहीदों को याद किया गया और उनकी शहादत को कभी बेकार नहीं जाने देने की शपथ ली गयी. साथ ही देश और समाज की रक्षा के लिए हमेशा मर मिटने का संकल्प लिया गया.

इसे भी पढ़ें : बगैर विज्ञापन निकाले 27 सफाई कर्मियों की नियुक्ति करनेवाले अधिकारी का अब कटेगी पेंशन

परिजनों को बिलखते देखकर भावुक हुआ पुलिस महकमा 

मुख्य समारोह में पलामू रेंज के डीआईजी विपुल शुक्ला, पुलिस अधीक्षक इन्द्रजीत माहथा के अलावा डीएसपी, इंस्पेक्टर, पुलिस अवर निरीक्षक स्तर के अधिकारियों के अलावा जवान शामिल हुए. शहीदों के परिजन भी मौके पर मौजूद थे. श्रद्धांजलि देने के दौरान बूढ़ा पहाड़ पर हाल के दिनों में शहीद हुए जवानों के परिजन शहीद स्मारक के समक्ष फूल माला चढ़ाते ही रोने-बिलखने लगे. इसे देखकर पूरा पुलिस महकमा भावुक हो गया. बाद में महिला पुलिसकर्मियों ने शहीद के परिजनों को संभाला. कार्यक्रम में एसपी इंद्रजीत माहथा ने इस साल बूढ़ा पहाड़ पर शहीद हुए जवानों और सरायकेला में शहीद हुए एएसआई का नाम पढ़ा और उन्हें श्रद्धांजलि दी.

शहादत से लेंगे प्रेरणा, देश सेवा के लिए दे देंगे जान: डीआईजी 

मौके पर डीआईजी विपुल शुक्ला ने कहा कि शहीद की शहादत हम सभी पुलिसकर्मियों के लिए प्रेरणा है. शहीदों की शहादत को कभी बेकार नहीं जाने दी जायेगी. देश एवं समाज की रक्षा के लिए अगर जरूरत पड़े वे अपनी जान भी देकर इसकी रक्षा करेंगे.

इसे भी पढ़ें : JPSC मुख्य परीक्षा पर संशय, परीक्षा हुई तो 2 लाख 7 हजार 804 कॉपियां चेक में लगेगा कितना वक्त !

सीआरपीएफ 134वीं मुख्यालय में रक्तदान शिविर

केन्द्रीय अर्द्धसैनिक बल (सीआरपीएफ) द्वारा पुलिस संस्मरण दिवस अलग तरीके से मनाया गया. डालटनगंज के जीएलए कॉलेज के समीप सीआरपीएफ की 134 बटालियन मुख्यालय में रक्तदान शिविर का आयोजन किया गया. कार्यक्रम में एएसपी ऑपरेशन अरूण सिंह, सीएमओ केके सिंह, समेत 134 और 112वीं बटालियन के सैकड़ों अधिकारियों और जवानों ने रक्तदान किया. रक्तदान करने के बाद एएसपी ऑपरेशन अरूण सिंह ने कहा कि रक्तदान से किसी को नुकसान नहीं होता, सिर्फ फायदा की होता है. इसलिए लोगों को बढ़-चढ़कर रक्तदान करना चाहिए. शहीदों को याद करते हुए रक्तदान किया गया है, ताकि उनके खून से किसी को नया जीवन मिल सके. देश में शांति स्थापित करने के साथ-साथ लोगों को नया जीवन देने के लिए सीआरपीएफ हर तरह से तैयार है.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Comments are closed.

%d bloggers like this: