JharkhandPalamu

पलामू: पंचायत चुनाव को लेकर मतगणना कर्मियों को दिया गया प्रशिक्षण

Palamu: त्रिस्तरीय पंचायत (आम) निर्वाचन, 2022 के प्रथम चरण के मतगणना की प्रक्रियाओं को लेकर आज जनता शिवरात्री कॉलेज में मतगणना पर्यवेक्षक एवं मतगणना सहायकों को प्रशिक्षण दिया गया. प्रवेक्षकों द्वारा 700 से अधिक मतगणना कर्मियों को प्रशिक्षण दिया गया. मतगणना कर्मियों को बिना किसी भय एवं दबाव के स्वतंत्र, निष्पक्ष रूप से नियमानुसार अपने कर्तव्यों का सम्पादन करने हर हाल में अनुशासन एवं व्यवस्था बनाए रखने की जानकारी दी गयी. मतगणना कर्मियों को मतपेटी खोलने, डाले गये मतों को प्रपत्र से मिलान करने की जानकारी दी गयी. मतगणना परिणाम की घोषणा करने एवं गिनती किए हुए मतपत्रों, प्रपत्रों में भरे गए मतगणना संबंधी आंकड़े एवं अन्य कागजात को सील बंद करके रखने तक की विस्तृत जानकारी दी गयी.

प्रशिक्षकों ने मतपेटी को खोलते हुए मतों को गणना टेबल पर सहजता से व्यवस्थित तरीके से रखते हुए पदवार, अभ्यर्थीवार छटनी करने तथा यथासंभव 50-50 की संख्या में मतपत्रों का बंडल बनाने की प्रक्रियाओं की जानकारी दी. उन्हें बताया गया कि अंतिम बंडल में 50 से कम भी मतपत्र हो सकते हैं. वहीं संदेहास्पद मतपत्रों को अलग करने आदि की जानकारी दी गयी.

इसे भी पढ़ें:राहुल गांधी को राहत देते हुए हाइकोर्ट ने किसी भी कारवाई पर लगायी रोक

ram janam hospital
Catalyst IAS

प्रशिक्षकों ने कहा कि मतगणना में छोटी-से-छोटी भूल भी परेशान कर सकता है. मतगणना कर्मियों को उनके आचरण एवं उनके हाव-भाव से यह परिलक्षित होना चाहिए कि वे किसी भी अभ्यर्थी के पक्ष अथवा विपक्ष में दिलचस्पी नहीं रखते हैं. छेड़छाड़ रहित मतगणना कार्य करने के गुर सिखाये गये.

The Royal’s
Pitambara
Pushpanjali
Sanjeevani

प्रशिक्षक मनु प्रसाद तिवारी, परसुराम तिवारी, अजातशत्रु प्रसाद सिन्हा, रामानुज प्रसाद, अशोक कुमार सिंह, अमरेन्द्र कुमार पाठक ने सभी मतगणना कर्मियों को प्रशिक्षण दिया.

इसे भी पढ़ें:होल्डिंग टैक्स में बढ़ोतरी तुगलकी फरमान, अविलंब इसपर रोक लगाये सरकार : डिप्टी मेयर

समाहरणालय में 30 मतदानकर्मियों को दिया गया प्रशिक्षण

पंचायत चुनाव को लेकर प्रथम चरण में चिकित्सा कारणों से रिपलेसमेंट के बाद उनके स्थान पर प्रतिनियुक्त 30 मतदानकर्मियों को आज समाहरणालय के प्रशिक्षण सभागार में प्रशिक्षण दिया गया. प्रशिक्षक देवेश कुमार पांडेय, सत्येन्द्र विश्वकर्मा, राम प्रवेश शर्मा ने प्रतिनियुक्त किये गए पीठासीन पदाधिकारी, प्रथम मतदान पदाधिकारी, दूसरे मतदान पदाधिकारी एवं तीसरे मतदान पदाधिकारी को प्रशिक्षण में मतदान की तकनीकी एवं व्यवहारिक प्रक्रियाओं को जानकारी दी. साथ ही स्वतंत्र एवं निष्पक्ष मतदान कराने की पूर्ण जानकारी दी गयी.

इसे भी पढ़ें:भाजपा के सबसे बेशर्म नेता हैं रघुवर, शीर्ष नेतृत्व करे झारखंड से बाहरः झामुमो

Related Articles

Back to top button