न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

पलामू: पत्थर व्यवसायी से लेवी वसूलने जा रहा TPC एरिया कमांडर महेश्वर राम गिरफ्तार, कई कांडों में रहा है शामिल

पुलिस को महेश्वर राम की लंबे अरसे से तलाश थी. जिसके बाद पुलिस ने सोमवार रात टीम बनाकर छापेमारी की और उसे गिरफ्तार कर लिया.

890

Palamu: पलामू जिले के हरिहरगंज थानान्तर्गत मंगरदाहा गांव से पुलिस की विशेष टीम ने सोमवार रात छापामारी कर टीपीसी के एरिया कमांडर महेश्वर राम (48) उर्फ शेखरजी को गिरफ्तार किया है.

इसे भी पढ़ें- #NirbhayaCase: दो दोषियों की क्यूरेटिव पिटीशन को SC ने किया खारिज, फांसी फाइनल

Sport House

कई कांड में शामिल रहा है महेश्वर

पुलिस अधीक्षक अजय लिंडा ने इसकी जानकारी देते हुए बताया कि गिरफ्तार उग्रवादी अपने संगठन के लिए पत्थर कारोबारियों से रंगदारी वसूलने में सक्रिय था.

लिंडा ने बताया कि वह गत 13 दिसंबर को पत्थर लदे हाइवा को जलाने में शामिल था. इसके अलावा सतबरवा थाना क्षेत्र में 2006 में हुई एक लूट का वह मुख्य अभियुक्त है.

इसे भी पढ़ें- निरसा में अवैध कोयला उत्खनन के दौरान चाल धंसी, दो लोगों की मौत, शवों को लेकर फरार हुए लोग

Mayfair 2-1-2020

नक्सली गतिविधियों से संबंधित पोस्टर बरामद

उन्होंने बताया कि उसके पास से एक डबल सिम वाला मोबाइल फोन और इक्कीस मुद्रित पर्चे बरामद किये गये हैं. साथ ही उसके पास से नक्सली गतिविधियों से संबंधित पोस्टर भी मिले हैं.

पुलिस को महेश्वर राम की लंबे अरसे से तलाश थी. जिसके बाद पुलिस ने सोमवार रात टीम बनाकर छापेमारी की और उसे गिरफ्तार कर लिया. गिरफ्तार महेश्वर राम पर कई आपराधिक मामले दर्ज हैं. पुलिस फिलहाल महेश्वर से पूछताछ कर रही है.

अजय लिंडा ने बताया कि गुप्त सूचना के आधार पर सहायक पुलिस अधीक्षक (अभियान) के नेतृत्व में कार्रवाई की गयी. इस दौरान हरिहरगंज थाना क्षेत्र से टीपीसी के एरिया कमांडर महेश्वर राम उर्फ शेखर जी को गिरफ्तार किया गया. महेश्वर पत्थर व्यवसायियों से लेवी वसूलने जा रहा था. इसी क्रम में उसे टीपीसी के 21 पोस्टर के साथ गिरफ्तार किया गया.

12 वर्ष पहले लूटकांड में जा चुका है जेल 

एसपी ने बताया कि महेश्वर हरिहरगंज के भांवर गांव के मंगरदाहा टोला का निवासी है. महेश्वर 12 वर्ष पहले 2006 में सतबरवा थाना क्षेत्र में हुई एक लूटकांड में जेल भी जा चुका है. इस साल के अंत में 30 दिसम्बर की रात को छतरपुर के मुनकेरी माइंस में हाइवा में आग लगा दी थी. महेश्वर टीपीसी में एरिया कमांडर के पद पर कार्यरत था. उसके खिलाफ पिपरा थाना कांड संख्या 01/2020 धारा 341, 342, 323, 504, 506, 427, 385, 387 भा.द.वि एवं 17 सीएलएक्टए का मामला दर्ज है.

गिरफ्तारी अभियान में हरिहरगंज के पुलिस निरीक्षक वंश नारायण सिंह, अवध किशोर पांडेय, स.अ.नि. संजय तिग्गा सहित अन्य शामिल थे.

दिसम्बर-जनवरी में टीपीसी ने आधा दर्जन से अधिक आपराधिक वारदातों को अंजाम दिया

दिसम्बर 2019 से जनवरी में अबतक की बात करें तो टीपीसी के उग्रवादी पुलिस के लिए सिरदर्द साबित हुए हैं. दिसम्बर और जनवरी में अबतक आधा दर्जन से अधिक आपराधिक घटनाओं को अंजाम दिया है. हालांकि पुलिस ने समय समय पर कार्रवाई की है, लेकिन तमाम कार्रवाई का टीपीसी उग्रवादियों पर कोई असर नहीं हुआ है. जिले के पिपरा थाना क्षेत्र अंतर्गत सरैया में रविवार की रात मुखिया मीना देवी के पति डॉ विजय कुमार मेहता को कब्जे में लेकर जमकर पिटायी की थी.

मरीज बनकर आये थे उग्रवादी

मुखिया के पति की पिटायी करने के लिए उग्रवादी मरीज बनकर उनके घर पहुंचे थे. घर के बाहर से आवाज लगायी थी कि पेट दर्द की दवा लेनी है. ऐसी बात सुनकर मुखिया पति ने दरवाजा खोल दिया था. दरवाजा खुलते ही टीपीसी के उग्रवादियों ने उन्हें अपनी गिरफ्त में ले लिया था और पास के देवी मंदिर और एसबीआई ब्रांच के बीच जमकर लाठी डंडे और बंदूक के बट से पिटायी की थी.

मुखिया पति अपने घर पर क्लिीनिक भी चलाते हैं. अक्सर लोग रात में उनके यहां इलाज के लिए पहुंचते हैं. मरीज की बात सुनकर मुखिया पति को दरवाजा खोलना काफी महंगा पड़ा था.

इसे भी पढ़ें : निरसा में अवैध कोयला उत्खनन के दौरान चाल धंसी, दो लोगों की मौत, शवों को लेकर फरार हुए लोग

SP Deoghar

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like