GarhwaJharkhandPalamu

पलामू की सड़कों पर फिर बरपा रफ्तार का कहर, दूल्हे के जीजा-भाई सहित तीन की मौत

विज्ञापन

Palamu/Garwa: पलामू प्रमंडल में पिछले 24 घंटे के दौरान एक बार फिर रफ्तार ने तीन लोगों की जान ले ली. गढ़वा जिले में हुई सड़क दुर्घटना में दूल्हे के जीजा और भाई की मौत हो गयी, वहीं पलामू जिले के सतबरवा-खामडीह में एनएच 39 पर मार्निंग वाक कर रहे एक युवक की अज्ञात वाहन के धक्के के बाद मौत हो गयी. सतबरवा में हादसे के बाद एनएच को दो घंटे तक जाम रखा गया. हालांकि बाद में सतबरवा बीडीओ उज्ज्वल सोरेन ने लोगों को समझाकर किसी तरह मामले को शांत कराया.

इसे भी पढ़ेंः सिमडेगा की ब्यूटी डुंगडुंग का चयन जूनियर भारतीय महिला हॉकी टीम में

बारात में हुआ हादसा

पलामू के तेलाड़ी गांव से बृजदेव पासवान की बारात बीती रात गढ़वा के बेलचंपा गांव गयी थी. इसी दौरान ट्रेलर ने बारात में शामिल एक बाइक को अपनी चपेट में ले लिया. जिसमें एक युवक की मौत मौके पर ही हो गयी, जबकि दूसरे शख्स की मौत इलाज के दौरान हो गयी. बाइक से दोनों बारात में शामिल होने जा रहे थे. पलामू-गढ़वा के सीमावर्ती बेलचंपा गांव के समीप ट्रेलर ने दोनों को अपनी चपेट में ले लिया है.

advt

इसे भी पढ़ेंः समीक्षा बैठक में बोले सीएम रघुवर दास – 30 लाख नए कनेक्शन से बिजली की खपत बढ़ी

ट्रेलर में जमकर तोड़फोड़

मृतकों में एक दूल्हे का भाई और एक जीजा था. उनकी पहचान दीपक कुमार पासवान और विकास कुमार पासवान के रूप में हुई है. घटना के बाद चालक वाहन छोड़ फरार हो गया. वहीं गुस्साए परिजनों ने ट्रेलर में जमकर तोड़फोड़ की. घटना की जानकारी मिलते ही पुलिस मामले की छानबीन में जुट गयी और ट्रेलर को कब्जे में लिया.

एनएच 39 पर अज्ञात वाहन ने युवक को रौंदा 

इधर, सतबरवा थाना प्रभारी रूपेश कुमार दूबे ने बताया कि मंगलवार की सुबह करीब चार बजे खामडीह के शंभुचक गांव के राजेश सिन्हा (24, पिता नकुल लाल) टहलने निकला था. इसी दौरान एक अज्ञात वाहन ने उसे अपनी चपेट में ले लिया और कुछ दूर तक घसीटते ले गया. हादसे में उसकी मौके पर ही मौत हो गयी. घटना में शामिल वाहन रांची की ओर से मेदिनीनगर की ओर जा रहा था. घटना के बाद उसकी पहचान के लिए छानबीन की जा रही है.

इसी वर्ष होनी थी युवक की शादी 

युवक के पिता के अनुसार राजेश सिन्हा की शादी इसी वर्ष होने वाली थी. इसके लिए लड़की देखने के लिए आज ही छतीसगढ़ जाना था. घटना के बाद युवक की मां और भाई का रो-रो कर बुरा हाल बना हुआ है. मृतक ट्रैक्टर चलाकर अपने परिवार का भरण-पोषण करता था. सतबरवा मुखिया संजय मिश्रा उर्फ बड़े बाबा, दिनेश पासवान एवं अन्य ग्रामीणों ने प्रभावित परिवार को आर्थिक मदद की है.

adv

इसे भी पढ़ेंः फरवरी से रुका है पारा शिक्षकों का मानदेय, मुख्यमंत्री से मिले हो गया एक माह, अब तक नहीं हुआ भुगतान

advt
Advertisement

Related Articles

Back to top button