Crime NewsJharkhandPalamu

पलामू : डॉन डब्लू सिंह गिरोह के तीन और सदस्य गिरफ्तार, एसपी बोले- ये लोग टेंडर मैनेज करते थे

Palamu : डॉन डब्लू सिंह गिरोह के खिलाफ पुलिस द्वारा पिछले 24 घंटे के दौरान दो बड़ी कार्रवाई की गयी है. जमीन के मामले को मैनेज करने में लगे गिरोह के तीन सदस्यों को गिरफ्तार करने के बाद अब टेंडर मैनेज करने में लगे गिरोह के तीन अन्य सदस्यों को भी पलामू पुलिस ने गुरुवार को गिरफ्तार किया है.

टेंडर का पेपर छीनने की कोशिश करने और धमकी देने का आरोप

जिले के एसपी संजीव कुमार ने बताया कि छह जनवरी को भवन निर्माण विभाग में टेंडर की प्रक्रिया चल रही थी. सूचना मिली थी कि कुछ अपराधी टेंडर मैनेज करने में लगे हुए हैं. सूचना पर पुलिस को अलर्ट किया गया था. इसी बीच हिमांशु कुमार पांडे द्वारा पुलिस को सूचना दी गयी कि उन्होंने भवन निर्माण विभाग में ठेका के लिए तीन टेंडर पेपर खरीदे थे.

Catalyst IAS
ram janam hospital

इसी बीच कुख्यात अपराधी सरगना डब्लू सिंह गिरोह के सदस्य रेड़मा निवासी लव सिंह, बारालोटा नहरपर निवासी सोनू दुबे, विश्रामपुर के भंडार निवासी प्रेम कमल दुबे और विश्रामपुर के नवगढ़ा निवासी सोनू सिंह उर्फ ध्रुव सिंह ने उनका टेंडर पेपर छीनने का प्रयास किया और धमकी दी. इस संबंध में शहर थाना में कांड संख्या 07/21 दर्ज किया गया और कार्रवाई के लिए टीम तैयार की गयी.

The Royal’s
Pitambara
Pushpanjali
Sanjeevani

एसपी ने कहा कि उपरोक्त सभी आरोपी संगठित अपराधी गैंग बनाकर रंगदारी से टेंडर पर कब्जा करने और टेंडर मैनेज करने का काम करते हैं.

सूचना के बाद त्वरित कार्रवाई की गयी और तीन आरोपियों बारालोटा नहरपर निवासी सोनू दुबे, विश्रामपुर के भंडार निवासी प्रेम कमल दुबे और विश्रामपुर के नवगढ़ा निवासी सोनू सिंह उर्फ ध्रुव सिंह को गिरफ्तार किया गया.

एक आरोपी रेड़मा के काली मंदिर रोड निवासी लव सिंह फरार है. आरोपियों के पास से रंगदारी और धमकी में प्रयुक्त दो मोबाइल, एक स्विफ्ट कार (जेएच01सी 3702) तथा एक मोटरसाइकिल (जेएच 03वी 2272) बरामद की गयी है.

इसे भी पढ़ें : गढ़वा : माओवादियों ने महिला समेत चार ग्रामीणों की पिटाई की

गलत रास्ते पर चलकर अपना भविष्य चौपट न करें युवा : एसपी

एसपी ने कहा कि जिले में गुंडागर्दी किसी कीमत पर बर्दाश्त नहीं की जायेगी. उन्होंने युवाओं को आगाह करते हुए कहा कि गलत रास्ते पर चलकर जल्द अमीर बनने के चक्कर में वे अपना भविष्य चौपट न करें.

उन्होंने कहा कि टेंडर मैनेज करना, रंगदारी वसूलना और धमकी देने के मामले को पुलिस ने काफी गंभीरता से लिया है और जैसे ही मामले सामने आयेंगे अपराधियों को कानून का पाठ पढ़ाया जायेगा. आज नहीं, तो कल उन पर शिकंजा कसा जायेगा और उन्हें उनकी असली जगह जेल पहुंचा दिया जायेगा.

इसे भी पढ़ें : पत्नी से विवाद में ऑटो चालक ने फांसी लगाकर दी जान

आरोपियों के खिलाफ दर्ज हैं कई आपराधिक मामले

आरोपी सोनू दुबे के खिलाफ सदर थाना में पांच, जबकि शहर थाना में एक मामला दर्ज है. इसी तरह आरोपी लव सिंह के खिलाफ दो आपराधिक मामले में शहर थाना में दर्ज हैं.

कार्रवाई में ये थे शामिल

कार्रवाई में सहायक पुलिस अधीक्षक सह मेदिनीनगर के एसडीपीओ के विजय शंकर, इंस्पेक्टर सह शहर थाना प्रभारी अरुण कुमार महथा, पुअनि नकुल कुमार साह, सअनि रामजीत सिंह, जवान कन्हाई यादव, विकास कुमार, विकेश पाल, रामपवन प्रजापति, प्रवीण लकड़ा आदि शामिल थे.

इसे भी पढ़ें : कार्टन में डालकर फेंका हुआ मिला एक दिन के नवजात का शव

Related Articles

Back to top button